अमेरिकी हवाई हमले में यूएसएस कोल विस्फोट का शीर्ष अलकायदा षड्यंत्रकारी मारा गया: पेंटागन

वाशिंगटन,  यमन में किए गए अमेरिकी हवाई हमले में करीब दो दशक पहले हुए यूएसएस कोल विस्फोट का शीर्ष अलकायदा षड्यंत्रकारी मारा गया है। पेंटागन ने यह जानकारी दी।

आतंकवादी जमाल अल-बदावी 12 अक्टूबर 2000 को हुए हमले में शामिल होने के आरोप में वांछित था। इस हमले में 17 नौसैनिक मारे गए थे।

अमेरिका सेंट्रल कमांड के प्रवक्ता कैप्टन विलियम अर्बन ने पुष्टि की कि अल-बदावी एक जनवरी को यमन की राजधानी सना में किए गए हवाई हमले में मारा गया।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ट्वीट किया, ‘‘हमारी महान सेना ने यूएसएस कोल में मारे गए और घायल हुए लोगों को न्याय दिलाया।’’

उन्होंने लिखा, ‘‘हमने हमले के सरगना जमाल अल-बदावी को मार गिराया। अल कायदा के खिलाफ हमारी जंग जारी है। हम कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवाद के खिलाफ अपनी लड़ाई कभी बंद नहीं करेंगे।’’

अदन के यमन बंदरगाह पर ईंधन भरे जाने के दौरान यूएसएस कोल पर हमला कर दिया गया था।

संघीय जूरी ने 2003 में बदावी को दोषी ठहराया था। उस पर 50 विभिन्न आतंकवादी गतिविधियों से जुड़े अपराधों के आरोप भी थे।