गाजा में हमास आतंकियों के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित कराने में सफल नहीं रहा अमेरिका

संयुक्त राष्ट्र,  अमेरिका प्रायोजित एक मसौदा प्रस्ताव संयुक्त राष्ट्र महासभा में जरूरी दो-तिहाई बहुमत हासिल नहीं कर सका जिसमें पहली बार गाजा के इस्लामी आतंकी संगठन हमास की निंदा की गयी थी।

अमेरिकी राजदूत निकी हेली ने मतदान से पहले महासभा में कहा था कि इससे इतिहास बन सकता है और हमास के खिलाफ बिना शर्त के बोला जा सकता है जो दुनिया में आतंकवाद का सबसे ज्यादा प्रकट और भद्दा विषय है।

लेकिन हमास के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पर मतदान में 57 के मुकाबले 87 वोट ही मिले जो जरूरी दो-तिहाई बहुमत से कम हैं। 33 सदस्य देशों ने मतदान में भाग नहीं लिया।

Leave a Reply