रिजर्व बैंक लघु उद्योंगो की समस्या पर विचार के लिए गठित करेगा समिति

मुंबई,  भारतीय रिजर्व बैंक ने बुधवार को कहा कि वह लघु एवं मध्यम उद्योग क्षेत्र की आर्थिक और वित्तीय स्थिरता के दीर्घकालिक समााधान के लिए एक विशेषज्ञ समिति का गठन करेगा।

रिजर्व बैंक ने अपने ‘विकासात्मक एवं नियामकीय नीतियों पर बयान’ में कहा कि इस समिति के स्वरूप और इसके लिए नियम-शर्तों को दिसंबर के अंत तक अंतिम रूप दे दिया जाएगा।

यह समिति जून 2019 के अंत तक अपनी रपट जमा करेगी।

देश में आर्थिक वृद्धि, उद्यमिता और रोजगार निर्माण में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग क्षेत्र की अहम भागीदारी है।

समिति गठन की घोषणा के वक्त केंद्रीय बैंक ने कहा कि लघु एवं मध्यम उद्योग क्षेत्र का असंगठित रूप बना रहेगा।

इससे पहले रिजर्व बैंक के केंद्रीय निदेशक मंडल ने परामर्श दिया था कि केंद्रीय बैंक को लघु एवं मध्यम उद्योग क्षेत्र में कुल 25 करोड़ रुपये तक दबाव वाली परिसंपत्तियों के ऋण पुनर्गठन की किसी योजना पर विचारा करना चाहिए।

Leave a Reply