देश में प्रतिभा की कमी नहीं, बस निखारने की जरूरत: पीटी उषा

मेरठ, भारत की पूर्व दिग्गज धाविका और उड़नपरी के नाम से मशहूर पीटी उषा ने गुरुवार को यहां कहा कि भारत में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है और बस इसे खोजकर निखारने की जरूरत है।

यहां के एक स्कूल में नारी सशक्तिकरण विषय पर आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंची पीटी उषा ने कहा, ‘‘हमें गावों में पहुंचकर प्रतिभा को तलाश कर उसे निखारने की जरूरत है। देश मे प्रतिभा की कमी नहीं है। बस हमें छोटी उम्र में खिलाड़ियों को साथ जोड़कर धैर्यपूर्वक उनकी ट्रेनिंग पर ध्यान देना होगा। थोड़ा समय लगेगा पर नतीजा जरूर आएगा।’’

पीटी उषा ने राज्य के एथलेटिक्स महासंघ की अच्छे काम के लिए तारीफ की। उन्होंने कहा, ‘‘यहां एथलेटिक महासंघ बेहतर कर रहा है। मैं स्वयं भी मुख्यमंत्री से मिलकर खेल सुविधाओं को बढ़ाने की मांग करूंगी।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने विदेश जाकर सिंथेटिक ट्रैक देखा था लेकिन अब खिलाड़ियों को देश में ही सुविधाएं मिलने लगी हैं।’’

अंडर 20 विश्व चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने वाली धाविका हिमा दास की तारीफ करते हुए इस दिग्गज धाविका ने कहा, ‘‘हिमा दास ने विश्व चैंपियनशिप में स्वर्ण जीता है जो बड़ी उपलब्धि है। दुती चंद ने एशियाई खेलों में रजत पदक जीता है। उत्तर प्रदेश की सुधा सिंह का प्रदर्शन अच्छा है। ये सभी खिलाड़ी ओलंपिक में बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं।’’

पीटी उषा ने बच्चों से अपील की कि वह मोबाइल फोन छोड़कर मैदान में अधिक समय बिताएं।