स्व सहायता समूह राठौर समाज की समृद्ध सोच का परिचायक है-श्री महेश पुजारी

उज्जैन। राठौर समाज द्वारा आर्थिक सुदृढ़ता के लिए बनाए गए सहयोग सामाजिक स्व सहायता समूह के चतुर्थ वार्षिक सम्मेलन में श्री महेश पुजारी ने कहा कि राठौर समाज मेहनत और उन्नति के लिए जानी जाती है। स्वसहायता समूह बनाकर राठौर समाज की बैंक बनाने की दिशा में जो कार्य कर रही है, उससे समाज की समृद्ध सोच का परिचय मिलता है।

अध्यक्ष अशोक राठौर (जावरा वालो) ने बताया कि आज सुराणा पैलेस उज्जैन में समूह की चौथी वार्षिक बैठक रखी गई। जिसमें मुख्य अतिथि महेश पुजारी बाबा महाकाल के मुख्य पुजारी व राष्ट्रीय अध्यक्ष, महाकाल सेना तथा विशेष अतिथि के रूप में आर.एन. राठौर सामाजिक उत्प्रेरक और राजेश सोलंकी सह कोषाध्यक्ष, अभा राठौर क्षत्रिय महासभा मदनलाल राठौर साबूखेड़ी सेवानिर्वत्त शिक्षक व अमरचन्द राठौर वरिष्ठ समाजसेवी थे। बैठक की अध्यक्षता अशोक राठौर (जावरा वालो) ने की। कार्यक्रम का शुभारम्भ राष्ट्रवीर श्री दुर्गादास राठौर के चित्र पर माल्यार्पण कर किया गया। अतिथियों के स्वागत के बाद 40 वर्ष से ज्यादा शिक्षक के रूप में सेवा देकर सेवानिवृत्त हुए। मदनलाल राठौर साबू खेड़ी का सेवानिवृत्त सम्मान तथा अमरचन्द राठौर को वरिष्ठ नागरिक सम्मान के रूप में दोनों को साफा बांधकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में आय-व्यय पत्रक का वाचन सचिव उमेश राठौर ने पढ़ा, जिसमें बताया कि समूह की बचत राशि आठ लाख रुपये से अधिक हो गई है। इस बार सदस्यों को दस प्रतिशत बोनस वितरित किया जा रहा है। जो पिछली साल की तुलना में तीन प्रतिशत ज्यादा है। साथ ही सामाजिक उत्प्रेरक श्री आर.एन. राठौर (सर) के प्रयासों से बैंक ऑफ इण्डिया और जिला उद्योग के माध्यम से स्वरोजगार यात्रा से, समाज के15 युवाओं को एक करोड़ 62 लाख के मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना से व्यापार और उद्योग चालू करवाए गए हैं, जो समाज उन्नति में सहायक बनेंगे।

सफल स्वरोजगार यात्रा के लिए योगेश राठौर माँ कृपा टेंट व सत्यनारायण राठौर शिप्रा ट्रेडर्स द्वारा आर.एन. राठौर का माँ विंध्यवासिनी का चित्र भेंट कर सम्मानित किया गया है।

कार्यक्रम में प्रमुख रूप से मोहनलाल राठौर, पूर्व अध्यक्ष राठौर समाज उज्जैन, श्रीमती सुशीला राठौर अध्यक्ष महिला संगठन उज्जैन, नरेंद्र राठौर, अध्यक्ष राठौर समाज नागदा, विनयसिंह देवड़ा वरिष्ठ पत्रकार, शिवनारायण राठौर पूर्व ट्रस्टी उज्जैन, धर्मेन्द्र राठौर (स्वदेश), जितेन्द्र राठौर (राठौर प्रयास), दिलीप मगरवा, कैलाश देवड़ा माकडोन, नरेश राठौर, महेश राठौर, गोपाल प्रसाद राठौर, शिवनारायण राठौर प्रबन्धक, गोपाल देवड़ा, गोपाल सोलंकी, वैभव राठौर, मंगल सोलंकी, श्रीमती सुनीता राठौर, श्रीमती ममता पुष्पद, श्रीमती शांतिबाई, श्रीमती राधा, श्रीमती लीला बाई सहित बड़ी संख्या में सदस्य और समाज के वरिष्ठ जन उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन मोहनलाल राठौर (गौतमपुरा) आभार कोषाध्यक्ष नीतेश राठौर ने माना।