तनुश्री के आरोपों पर बॉलीवुड की प्रतिक्रिया: उन्हें चुप नहीं कराया जाए, बल्कि आरोपों की जांच हो

मुंबई,  अदाकारा तनुश्री दत्ता द्वारा अभिनेता नाना पाटेकर पर लगाए गए उत्पीड़न के आरोपों के कुछ दिन बाद बॉलीवुड से कई आवाजें अभिनेत्री के समर्थन में सुनाई दे रही हैं।

वरूण धवन और स्वरा भास्कर जैसे कलाकारों ने कहा है कि उनकी बात को सुनने की जरूरत है।

हाल में एक टीवी साक्षात्कार में तनुश्री ने दावा किया था कि दस वर्ष पहले, 2008 में फिल्म ‘‘ हॉर्न ओके प्लीज’’ के सेट पर पाटेकर ने उनके साथ दुर्व्यवहार किया था।

इस मुद्दे पर बॉलीवुड का क्या रूख है? इस पर वरूण कहते हैं कि ऐसा कार्यस्थल बनाने पर जोर देना चाहिए जहां सभी का सम्मान हो।

नौंवे जागरण फिल्म समारोह में रविवार को वरूण ने कहा, ‘‘ हमें अपनी इंडस्ट्री को महिलाओं, पुरूषों और बच्चों के लिए सुरक्षित बनाना चाहिए। हर किसी को समान सम्मान दिया जाना चाहिए। इस मुद्दे को सभी ओर उठाया जा रहा है, हालांकि मैं इस बारे में ज्यादा नहीं जानता। लेकिन अगर कोई इस बारे में बोल रहा है तो आपको उस व्यक्ति की बात को सुनना चाहिए। यह कहने के लिए बहुत अधिक साहस की जरूरत होती है। मैं उस साहस की सराहना करता हूं।’’

समारोह में फिल्मकार अनुराग कश्यप और सुधीर मिश्रा ने भी महिलाओं के लिए सुरक्षित माहौल बनाने की पैरवी की।

स्वरा ने कहा कि सुरक्षित कार्यस्थल हर किसी का अधिकार है।

उन्होंने कहा कि कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न हमारे समाज के समक्ष एक बड़ा मुद्दा है। इस पर खास ध्यान नहीं दिया जाता, गंभीर चर्चा भी नहीं होती। अच्छी बात यह है कि अब ये मुद्दे सामने आ रहे हैं।

अनुराग कश्यप ने कहा कि आत्मावलोकन वक्त की जरूरत है।

अभिनेता पंकज कपूर ने कहा कि वह यह तो नहीं कह सकते कि कौन सही है और कौन गलत, लेकिन जांच जरूर आगे बढ़नी चाहिए।

पूजा भट्ट ने कहा कि जब भी कोई शिकायत करता है तो उसकी जांच होनी चाहिए।