किशोरों की धमनियों पर बुरा प्रभाव डाल रहे हैं धूम्रपान और शराब : शोध

लंदन,  हाल ही में हुये एक शोध में पाया गया है कि शराब और धूम्रपान जैसी लतों के शिकार किशोरों की धमनियां कम उम्र में ही कठोर होने लगती हैं जिससे उनमें दिल की बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है।

यूरोपीय हार्ट पत्रिका में छपे शोध के परिणामों के अनुसार सिगरेट और शराब का एक साथ सेवन इनके अलग अलग सेवन से ज्यादा क्षति पहुंचाता है। शोधकर्ताओं ने 2004 और 2008 के बीच पांच साल की अवधि में 1,266 किशोरों पर यह अध्ययन किया।

सूत्रों के अनुसार वयस्कों की तुलना में किशोरों में धमनियों की इस तरह की परेशानी की खबरें ज्यादा आ रही हैं। यह शोध 13 से 17 वर्ष की उम्र के किशोरों की धूम्रपान की आदतों पर किया गया था। इसमें यांत्रिक रूप से धमनियों में नब्ज़ की बढ़ी गति को मापा गया।