बॉलीवुड में किसी की जगह स्थायी नहीं : राजकुमार राव

मुंबई,  अपने अभिनय के जरिए बॉलीवुड में खास जगह बनाने वाले राजकुमार राव ने कहा कि वह हर बार सोचते हैं कि साल में दो से ज्यादा फिल्में नहीं करेंगे लेकिन “लालची” अभिनेता कोई भी अच्छी स्क्रिप्ट हाथ से जाने नहीं देना चाहते क्योंकि बॉलीवुड में किसी की भी जगह स्थायी नहीं है।

पिछले साल राजकुमार राव की छह फिल्में रिलीज हुईं थीं जिनमें “ट्रैप्ड”, “बरेली की बर्फी” और “न्यूटन” जैसी फिल्में शामिल थीं।

अभिनेता ने 2018 की शुरुआत “ओमेर्टा” से की थी और बाद में उनकी फिल्म “फन्ने खां” आई और अब वह अपनी तीसरी फिल्म “स्त्री” की रिलीज के लिए तैयार हैं। अमर कौशिक के निर्देशन में बन रही यह एक हॉरर कॉमेडी है।

राव ने कहा कि एक अच्छी फिल्म को मना करना उनके लिए असंभव हो जाता है और अंतत: वह उसमें काम कर ही लेते हैं।

उन्होंने कहा, “मैं जब भी साल में दो फिल्म करने के बारे में सोचता हूं, मेरे सामने “स्त्री’’ जैसी एक और बढ़िया कहानी आ जाती है और मैं उसे मना नहीं कर पाता। यहां कोई भी स्थायी नहीं, हर किसी की जगह ली जा सकती है। अगर मैं साल में दो फिल्म करने की अपनी चाहत की वजह से किसी फिल्म को न कह दूं और घर पर बैठा रहूं तो कोई और वह फिल्म कर लेगा।”

राव ने कहा, “मैं लालची अभिनेता हूं, मैं चाहता हूं सभी स्क्रिप्ट मेरे पास आए। इसलिए मैं अपने रास्ते में आने वाली हर अच्छी फिल्म करता हूं फिर चाहे मुझे आराम कम मिले। मैं जब भी सोचता हूं कि अब मैं थोड़ा विराम लूंगा, एक अच्छी स्क्रिप्ट मेरे सामने आ जाती है।”