बांग्लादेश का आरोप म्यामां नहीं कर रहा रोहिंग्यांओं की चिंता दूर करने के प्रयास

संयुक्त राष्ट्र,  बांग्लादेश ने म्यामां सरकार पर देश छोड़ कर भाग चुके 10 लाख से अधिक रोहिंग्याओं की चिंताओं को दूर करने में नाकाम रहने का आरोप लगाया है। साथ ही संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद से रोहिंग्याओं की सुरक्षित घर वापसी सुनिश्चित करने के लिए कदम उठाने को कहा है।

बांग्लादेश के राजदूत मसूद बिन मोमेन ने परिषद को एक पत्र लिख कर कहा कि उनकी सरकार रोहिंग्याओं की वापसी की प्रक्रिया पर भरोसे के साथ काम कर रही है लेकिन हमें अफसोस है कि उनकी सुरक्षित वापसी के लिए जिन स्थितियों की जरूरत है उनका अभाव है।

उन्होंने कहा, ‘‘म्यांमा ने ना तो रोहिंग्याओं की और ना ही अंतरराष्ट्रीय समुदाय की चिंताओं को दूर करने के ऐसे प्रयास किए हैं जो दिखाई देते हों। उन्होंने सुरक्षा परिषद से एक प्रस्ताव पारित करने और रोहिंग्या समस्या से निपटने के लिए ठोस कदम उठाने की मांग की ताकि बांग्लादेश में शरणार्थी के तौर पर रह रहे ये लोग वापस लौट सकें।’’

Leave a Reply