2017-18 में ताजमहल के रखरखाव पर 4.12 करोड़ रूपए खर्च किए गए

नयी दिल्ली, विश्व प्रसिद्ध ताजमहल के रखरखाव में ढिलाई बरते जाने के आरोप से इंकार करते हुए सरकार ने आज कहा कि 2017-18 में इसके संरक्षण और पर्यावरणीय विकास कार्यां में करीब 4.12 करोड़ रूपए खर्च किए गए।

संस्कृति मंत्री महेश शर्मा ने एक सवाल के लिखित जवाब में राज्यसभा को बताया कि ताजमहल के संरक्षण और पर्यावरणीय विकास कार्यां में 2016-17 में करीब 4.69 करोड़ रूपए खर्च किए गए थे। 2017-18 में यह राशि करीब 4.12 करोड़ रूपए थी।

शर्मा ने कहा कि ताजमहल के संरक्षण का काम भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण द्वारा नियमित रूप से किया जाता है और यह भली-भांति संरक्षित है।