मध्य प्रदेश का सोयाबीन चीन को निर्यात करने पर सरकार ने किया विचार विमर्श

भोपाल, मध्यप्रदेश सरकार ने अमेरिका-चीन के बीच जारी व्यापार तनाव के इस दौर में प्रदेश में सबसे ज्यादा उत्पादित होने वाली फसल सोयाबीन का निर्यात चीन के बाजारों में करने के बारे में आज विचार विमर्श किया।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंत्रिपरिषद की बैठक में प्रदेश में उपजने वाले सोयाबीन को पड़ोसी देश चीन के बाजार में ले जाने की इच्छा व्यक्त की। मालूम हो कि अमेरिका-चीन व्यापार तनाव के चलते चीन में 1.15 करोड़ टन सोयाबीन की कमी हो रही है। मध्यप्रदेश देश में सबसे अधिक सोयाबीन का उत्पादन करता है।

मंत्रिपरिषद की बैठक में लिये गये निर्णयों की जानकारी देते हुए प्रदेश के जनसंपर्क मंत्री नरोत्तम मिश्र ने आज यहां संवादाताओं को बताया, ‘‘पिछले सप्ताह मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केन्द्रीय वाणिज्य मंत्री सुरेश प्रभु से नई दिल्ली में मुलाकात कर इस मामले पर चर्चा की थी।’’

उन्होने बताया कि प्रदेश में पैदा होने वाले सोयाबीन को चीन के बाजार में प्रवेश के लिये प्रदेश सरकार अपना एक प्रतिनिधि मंडल वहां भेजना चाहती है।

इसके साथ ही मुख्यमंत्री चौहान की अध्यक्षता में मंत्रिपरिषद की बैठक में अधिवक्ता सुरक्षा कानून को अध्यादेश के तौर पर लागू करने की मंजूरी प्रदान की गयी।