‘चुनाव के दौरान दंगे की साजिश’ की सूचना गृह मंत्री के साथ साझा करें रक्षा मंत्री: चिदंबरम

नयी दिल्ली,  कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण के कल के बयान को लेकर उन पर हमला बोला और तंज करते हुए कहा कि उन्हें ‘अगले लोकसभा चुनाव के दौरान दंगे भड़काने की साजिश’ की सूचना गृह मंत्री राजनाथ सिंह के साथ साझा करनी चाहिए।

पूर्व गृहमंत्री चिदंबरम ने आज ट्वीट कर कटाक्ष किया, ‘‘पाकिस्तान पर काबू करने, आतंकवाद का खात्मा करने, घुसपैठ को रोकने और राफेल विमान खरीदने के बाद रक्षामंत्री के पास पूरा समय है कि वह पार्टियों और व्यक्तियों के धार्मिक जुड़ावों की जांच कर रही हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘रक्षा मंत्री का कहना है कि ‘लोकसभा चुनाव के दौरान दंगा भड़काए जाने की साजिश हो रही है’। उन्हें यह गोपनीय (?) सूचना गृहमंत्री के साथ साझा करनी चाहिए।’’

सीतारमण ने कल एक उर्दू दैनिक की खबर का हवाला दते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से यह स्पष्ट करने की मांग की थी कि क्या वे मानते हैं कि कांग्रेस एक ‘मुस्लिम पार्टी’ है ।

उन्होंने साथ ही कांग्रेस पार्टी पर 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले देश को मजहब के आधार पर बांटने का आरोप लगाया था।

भाजपा की वरिष्ठ नेता ने कहा था कि अगर कांग्रेस पार्टी का मकसद 2019 का चुनाव धर्म के आधार पर लड़ने का है तब हमें डर है कि साम्प्रदायिक रूप से संवेदनशील इलाकों में दंगा फैलाने का कोई षड्यंत्र तो नहीं होगा?

कांग्रेस प्रवक्ता सुष्मिता देव ने कल सीतारमण पर पलटवार करते हुए कहा था कि ‘राफेल घोटाले’ बेरोजगारी की समस्या और नीरव मोदी जैसे मामलों से ध्यान भटकाने के लिए रक्षा मंत्री ‘धार्मिक तनाव’ पैदा कर रही हैं।

दरअसल, एक उर्दू दैनिक ने दावा किया है कि राहुल गांधी ने मुस्लिम बुद्धिजीवियों के साथ मुलाकात के दौरान कहा कि ‘कांग्रेस मुस्लिम पार्टी’’ है।

कांग्रेस ने इस खबर को ‘कोरी अफवाह’ करार दिया है।