फ्रीगंज ओवरब्रिज की नई शाखा बनाए जाने के लिए राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को सौंपा ज्ञापन

उज्जैन। फ्रीगंज ओवरब्रिज निर्माण के लिए नन्ही बालिका भूमि व्यास ने शनिवार को राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से भेंट कर ज्ञापन सौंपा। जिसमें ब्रिज निर्माण करवाए जाने के लिए हस्तक्षेप करने की मांग की। ज्ञापन को पढ़ने के बाद महामहिम राज्यपाल ने तुरंत निगम आयुक्त प्रतिभा प्रतिभा पाल को कक्ष में बुलाया और ब्रिज निर्माण में आ रही बाधा के संबंध में पूछा। श्रीमती पाल ने बताया कि मैं कुछ समय पूर्व ही उज्जैन आई हूं। इस मामले को लेकर जानकारी लेती हूं।

100 साल पुराना है फ्रीगंज ब्रिज
पुराने शहर से नए शहर को जोड़ने के लिए यह ओवरब्रिज है जो कि 100 साल से भी अधिक पुराना है। पीडब्ल्यूडी को यह ब्रिज बनाए जाने के लिए स्वीकृति भी पूर्व में मिल चुकी है। साथ ही बजट भी जारी हो चुका है। निगमायुक्त ने राज्यपाल से कहा कि पीडब्ल्यूडी से चर्चा कर आपको अवगत कराऊँगी। इधर महामहिम राज्यपाल ने नन्ही बालिका भूमि व्यास को आश्वासन देते हुए कहा कि ब्रिज जरूर बनेगा। छोटी उम्र में भी जनहित का मुद्दा उठाकर जो कार्य कर रही हो, वह तारीफ के काबिल है। गौरतलब है कि मंछामन निवासी 9 वर्षीय भूमि व्यास ने पिछले वर्ष 2017 में भी फ्रीगंज ओवर के लिए धरना दिया था और शहर के सभी जनप्रतिनिधियों समेत भाजपा कांग्रेस के नेताओं से मुलाकात कर नई शाखा बनाए जाने के लिए स्मरण पत्र सौंपा था। मौजूदा फ्रीगंज ब्रिज बेहद जर्जर स्थिति में है। यह जानकारी मनीष भालसे ने दी।