तकनीक क्षेत्र में डिजिटल बदलाव से दुनियाभर में सृजित होंगी 50 लाख नौकरियां

नयी दिल्ली , तकनीकी क्षेत्र में आते डिजिटल बदलाव से साइबर सुरक्षा , क्लाउड कंप्यूटिंग और डाटा विश्लेषण जैसे विशेष कौशल रखने वाले पेशेवरों की मांग बढ़ी है। इस बदलाव से 2027 तक दुनियाभर में 50 लाख से ज्यादा नौकरियां पैदा होंगी।

बाजार आसूचना कंपनी आईडीसी के एक सर्वेक्षण के अनुसार इस तरह का कौशल रखने वाले पेशेवरों की भारी कमी है। ऐसे में जिन लोगों के पास यह कौशल है उनके लिए बेहतर नौकरियों की उम्मीद है।

सर्वेक्षण के अनुसार ये नौकरियां डाटा प्रबंधन , विश्लेषण , साइबर सुरक्षा , सूचना प्रौद्योगिकी बुनियादी ढांचा , सॉफ्टवेयर विकास , एप विकास और डिजिटल बदलाव इत्यादि क्षेत्रों में पैदा होंगी।

क्षेत्रवार आधार पर एशिया – प्रशांत में अगले एक दशक में 29 लाख नौकरियां पैदा होंगी , वहीं उत्तरी अमेरिका में यह 12 लाख और लातिनी अमेरिकी देशों में छह लाख रोजगार इन क्षेत्रों में पैदा होंगे।

आईडीसी के कार्यक्रम उपाध्यक्ष कुशिंग एंडरसन ने कहा कि डिजिटल बदलाव उद्योग की दिशा तय कर रहा है और नए रोजगार की मांग पैदा कर रहा है। सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र में नौकरी की चाह रखने वालों के लिए बेहतर अवसर मौजूद हैं। यह सर्वेक्षण बताता है कि भविष्य में नौकरियां कहां होंगी।