आध्यात्मिक क्षेत्र में गीताश्रीधर की भूमिका अविस्मरणीय- स्वामी रंगानाथचार्यजी

उज्जैन। गीताश्रीधर धार्मिक सांस्कृतिक एवं सामाजिक सेवा सस्थान उज्जैन द्वारा आज अधिकमास (पुरुषोत्तम मास) प्रारंभ के अवसर पर दुलर्भ आध्यात्मिक जानकारी आम धर्मालुजनों को सुविधापूर्वक उपलब्ध हो सके। इस हेतु फोल्डर्स का विमोचन रामानुजकोट के पीठाधीश्वर 1008 स्वामी श्री रंगनाथचार्यजी के कर कमलों से हुआ।

विस्तृत जानकारी देते हुए संस्था सचिव रूपेश काबरा ने बताया कि इस अवसर पर 84 महादेव की दर्शन यात्रा, सप्त सागर, नौ नारायण के नाम पते वाले फोल्डर्स का विमोचन स्वामीजी के कर कमलों से सम्पन्न हुआ। स्वामीजी ने कहा कि यथानाम तथा गुण वाली कहावत संस्था गीताश्रीधर पर लागू होती है। संस्था द्वारा प्रकाशित फोल्डर में दी गई जानकारियां आध्यात्मिक जगत से जुड़े धर्मालु जनों के उपयोगी एवं लाभकारी होगी। आपने कहा कि जल्द ही इस बाबत इसका नि:शुल्क वितरण किया जावेगा। आपने कहा कि पैदल यात्रा, वाहन यात्रा आदि मार्गों की बहुमूल्य जानकारी संस्था द्वारा उक्त फोल्डर में प्रदत्त की जा रही है तथा अपने सप्त सागर एवं नौ नारायण मंदिरों पर मूलभूत सुविधा सुरक्षा व्यवस्था आदि चौकस करने पर बल दिया।

इस अवसर पर संस्था के संस्थापक सुरेश काबरा, अध्यक्ष सुमन काबरा, दीपक बेलानी, सचिन परिहार, पं. अजय व्यास, रोशन नागर, गौरव साहू, श्रीकांत खत्री, दिलीप श्रीवास, अंशुल शर्मा, विकास चौरसिया आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply