विटामिन डी मधुमेह के इलाज में मदद कर सकता है: अध्ययन

वाशिंगटन , वैज्ञानिकों का कहना है कि विटामिन डी मधुमेह के इलाज में मदद कर सकता है।

वैज्ञानिकों ने कहा है कि विटामिन डी अग्न्याशय में खराब बीटा कोशिकाओं का इलाज करने में मदद कर सकता है जो हार्मोन इंसुलिन का उत्पादन , भंडारण और उसे छोड़ने में मदद कर सकता है। इससे वह मधुमेह के इलाज के लिए एक नये दृष्टिकोण के लिए मार्ग प्रशस्त कर सकता है।

जब बीटा कोशिकाएं निष्क्रिय हो जाती हैं , तो शरीर रक्त शर्करा को नियंत्रित करने के लिए इंसुलिन नहीं बना सकता है और ग्लूकोज का स्तर खतरनाक स्तर तक बढ़ सकता हैं।

अमेरिका में साल्क इंस्टीट्यूट के अनुसंधानकर्ताओं ने एक अप्रत्याशित स्रोत विटामिन डी का इस्तेमाल करके अपना लक्ष्य पूरा किया। कोशिकाओं और माउस मॉडल में विटामिन डी क्षतिग्रस्त बीटा कोशिकाओं के इलाज में फायदेमंद साबित हुआ।

साल्क इंस्टीट्यूट के रोनाल्ड इवांस ने कहा ,‘‘ हम जानते हैं कि मधुमेह सूजन के कारण हुई एक बीमारी है। इस अध्ययन में हमने विटामिन डी रिसेप्टर को सूजन और बीटा कोशिका के अस्तित्व दोनों के एक महत्वपूर्ण माड्यूलेटर के रूप में पहचाना। ’’

साल्क इंस्टीट्यूट में एक शोध सहयोगी ज़ोंग वी ने कहा , ‘‘ बीटा कोशिकाओं में विटामिन डी की भूमिका को देखकर यह अध्ययन शुरू हुआ। ’’

Leave a Reply