15 अप्रैल : सतगुरू नानक प्रकटया, मिटी धुंध जग चानन होया

नयी दिल्ली, आज का दिन सिख धर्म के इतिहास में सुनहरी हरफों में लिखा गया है। यही वह दिन है जब सिख धर्म के संस्थापक गुरू नानक का जन्म हुआ।

साल का यह 105वां दिन एक और कारण से भी इतिहास में एक खास मुकाम रखता है। इसी दिन मधुमेह के रोगियों के लिए इंसुलिन का इस्तेमाल शुरू हुआ।

देश दुनिया के इतिहास में इस दिन की कुछ खास घटनाएं इस प्रकार हैं।

1469 : सिख धर्म के संस्थापक गुरू नानक का जन्म। 1689 : फ्रांस ने स्पेन के खिलाफ युद्ध की घोषणा की। 1948: हिमाचल प्रदेश राज्य की स्थापना हुई। यह राज्य 30 छोटे-छोटे राज्यों को मिला कर बनाया गया। 1976: भारत ने 15 साल में पहली बार बीजिंग में अपना दूत भेजने की घोषणा की।

1980: छह गैर-सरकारी बैंक राष्ट्रीयकृत किए गए। इससे पहले भी कुछ बैंक इसी तरह राष्ट्रीयकृत हुए थे।

2010: भारत में निर्मित पहले क्रायोजेनिक रॉकेट जीएसएलवी-डी3 का प्रक्षेपण नाकाम।

15 अप्रैल को उत्तर कोरिया में डे आफ द सन के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन यूनिवर्सल डे आफ कल्चर और वर्ल्ड आर्ट डे भी मनाया जाता है।