वैश्विक संकेतों से सोने ने 32,000 रुपये का स्तर फिर हासिल किया, चांदी भी मजबूत

नयी दिल्ली,  सोने में लगातार दूसरे सप्ताह तेजी बनी रही। स्थानीय आभूषण विक्रेताओं की भारी लिवाली के बीच वैश्विक बाजारों में मजबूती के रुख के कारण राष्ट्रीय राजधानी के सर्राफा बाजार में बीते सप्ताह सोने ने 32,000 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर को पुन: हासिल किया।

औद्योगिक इकाइयों और सिक्का निर्माताओं का उठाव बढ़ने के कारण चांदी ने भी 40,000 रुपये प्रति किग्रा को फिर से हासिल किया।

बाजार सूत्रों ने कहा कि पश्चिम एशिया में तनाव बढ़ने के बीच सुरक्षित निवेश के विकल्प के रूप में सर्राफा मांग बढ़ी है। विदेशों में मजबूती के रुख के अलावा घरेलू बाजार की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए स्थानीय आभूषण कारोबारियों की लिवाली से भी कारोबारी धारणा में तेजी रही।

वैश्विक स्तर पर न्यूयॉर्क में सोना सप्ताहांत में तेजी दर्शाता 1,345.40 डॉलर प्रति औंस और चांदी तेजी के साथ 16.63 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुई।

राष्ट्रीय राजधानी में 99.9 प्रतिशत और 99.5 प्रतिशत शुद्धता वाले सोने की क्रमश: 31,500 रुपये और 31,350 रुपये प्रति 10 ग्राम पर मजबूत शुरुआत हुई। मजबूत वैश्विक रुख और स्थानीय आभूषण कारोबारियों की लिवाली बढ़ने से ये क्रमश: 32,150 रुपये और 32,000 रुपये प्रति 10 ग्राम तक मजबूत हुईं और सप्ताहांत में 630 – 630 रुपये की मजबूती दर्शाती क्रमश: 32,100 रुपये और 31,950 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुईं।

गिन्नी की कीमत भी सप्ताहांत में 100 रुपये की तेजी दर्शाती 24,900 रुपये प्रति आठ ग्राम पर बंद हुई।

सोने की ही तरह से चांदी तैयार की कीमत 800 रुपये की तेजी के साथ सप्ताहांत में 40,000 रुपये प्रति किग्रा और चांदी साप्ताहिक डिलीवरी की कीमत भी 690 रुपये की तेजी के साथ 38,925 रुपये प्रति किग्रा पर बंद हुई।

चांदी सिक्कों की कीमत भी 1,000 रुपये की तेजी के साथ लिवाल 75,000 रुपये और बिकवाल 76,000 रुपये प्रति सैकड़ा पर बंद हुई।