राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों की घोषणा : श्रीदेवी को सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री, विनोद खन्ना को दादा साहब फाल्के पुरस्कार

नयी दिल्ली , राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार के निर्णायक मंडल ने अभिनेता विनोद खन्ना को दादा साहेब फाल्के और अभिनेत्री श्रीदेवी को सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का राष्ट्रीय पुरस्कार देने की आज घोषणा की। दोनों ही कलाकारों को यह पुरस्कार मरणोपरांत दिया जाएगा।

दिग्गज निर्देशक शेखर कपूर की अगुवाई वाले निर्णायक मंडल ने आज 65वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों का ऐलान किया।

कौशिक गांगुली की बंगाली फिल्म ‘ नगर कीर्तन ’ में शानदार अभिनय के लिए ऋद्धि सेन को सर्वश्रेष्ठ अभिनेता, मलयाली फिल्म ‘ भयानकम ’ के लिए जयराज को सर्वश्रेष्ठ निर्देशक और रीमा दास की असमी फिल्म ‘ विलेज रॉकस्टार्स ’ को सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म के लिए चुना गया।

‘ न्यूटन ’ को साल के सर्वश्रेष्ठ हिन्दी फिल्म के लिए चुना गया है। वहीं एस एस राजमौली की ‘ बाहुबली : द कनक्लुजन ’ को सर्वश्रेष्ठ लोकप्रिय फिल्म का पुरस्कार दिया जाएगा।

राष्ट्रीय एकता के लिये सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म का नरगिस दत्त पुरस्कार मराठी फिल्म ‘धप्पा’ को देने की घोषणा की गई जबकि सामाजिक मुद्दों पर सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार मलयालम फिल्म ‘आलोरमक्कम’ ने अपने नाम किया।

ऑस्कर पुरस्कार विजेता ए आर रहमान ने तमिल फिल्म ‘ कातरु वेलिइदाई ’ के लिए सर्वश्रेष्ठ संगीतकार और हिन्दी फिल्म ‘ मॉम ’ के लिए सर्वश्रेष्ठ पार्श्व संगीत के पुरस्कार अपने नाम किये।

गणेश आचार्य ने ‘ टॉयलेट : एक प्रेम कथा ’ के लिए सर्वश्रेष्ठ कोरियोग्राफर का पुरस्कार अपने नाम किया।

‘ न्यूटन ’ में सीआरपीएफ के चिड़चिड़े अधिकारी का किरदार निभाने वाले पंकज त्रिपाठी को उल्लेखनीय अभिनय के लिए विशेष पुरस्कार दिया जाएगा। कपूर ने कहा कि त्रिपाठी द्वारा निभाया गया ‘ आत्मा सिंह ’ का किरदार अमित वी मसुरकर निर्देशित फिल्म की सबसे अच्छी चीजों में से एक है।

दिव्या दत्ता को ‘ इरादा ’ में उनके किरदार के लिए सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री का पुरस्कार दिया जाएगा। इसी फिल्म को पर्यावरण संरक्षण पर सर्वश्रेष्ठ फिल्म के पुरस्कार से भी नवाजा गया।

फहद फाजिल ने मलयाली फिल्म ‘ तोंदीमुतलम दृकशियम ’ के लिए सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता का पुरस्कार जीता।

मलयाली फिल्म ‘ विश्वासपूर्व एम मंसूर ’ के गाने ‘ पॉय मरांजा कलाम ’ के लिए के जे येसुदास को सर्वश्रेष्ठ गायक और ‘ कातरु वेलिइदाई ’ के गाने ‘ वान ’ के लिए सासा तुरुपति को सर्वश्रेष्ठ गायिका का पुरस्कार दिया जाएगा।

श्रीदेवी के नाम की घोषणा करते हुए फीचर फिल्मों के निर्णायक मंडल के प्रमुख शेखर कपूर ने कहा कि अभिनेत्री इस पुरस्कार की सबसे बड़ी हकदार थी।

कपूर ने कहा , ‘‘ हमारे रिश्ते के कारण उन्हें यह पुरस्कार नहीं दिया गया है बल्कि वह ‘ मॉम ’ में अपने किरदार के लिए वह सबसे बड़ी हकदार थीं। ’’

श्रीदेवी के पति बोनी कपूर को जब इस बारे में बताया गया तो वह भावुक हो गए।

बोनी ने ‘ पीटीआई ’ से कहा , ‘‘ शुक्रिया। काश वह इसे देखने के लिए आज यहां होती। ’’

श्रीदेवी ‘ मॉम ’ में ऐसी मां की भूमिका में दिखीं जो अपनी बलात्कार पीड़ित बेटी को न्याय दिलाने के लिए संघर्ष करती है और ऐसा नहीं होने पर बदला लेती है।

गत फरवरी में 54 वर्ष की आयु में अभिनेत्री के निधन से पूरा देश गमगीन हो गया था। कपूर ने ‘ मिस्टर इंडिया ’ में श्रीदेवी के साथ काम किया था।

‘70 और 80’ के दशक में हिन्दी फिल्मों के सबसे बड़े सितारों में शुमार खन्ना को 49 वें दादा साहब फाल्के से सम्मानित किया गया। पृथ्वीराज कपूर के बाद संभवत : यह पहला मौका है जब किसी अभिनेता को मरणोपरांत भारतीय सिनेमा के सर्वोच्च सम्मान के लिए चुना गया है।

पुरस्कारों की घोषणा के बाद पंकज त्रिपाठी ने ‘ पीटीआई – भाषा ’ से कहा , ‘‘ मेरे लिए आज का दिन और यह पुरस्कार बहुत अहम है। मेरे काम को सम्मानित करने के लिए मैं सरकार का शुक्रगुजार हूं। जब मैं अपने गांव से निकला था तो मेरी इच्छा एक दिन राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त करने की थी। मैं अभिभूत हूं। ’’

वहीं , सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री का पुरस्कार जीतने वाली दत्ता ने ‘ पीटीआई ’ से कहा , ‘‘ मुझे इस बारे में अभी जानकारी मिली। यह मेरा पहला राष्ट्रीय पुरस्कार है जबकि सबको लगता था कि मैं पहले ही एक राष्ट्रीय पुरस्कार जीत चुकी हूं। आज यह खबर में वास्तव में सच साबित हुई। ’’

रीमा दास की असमी फिल्म ‘ विलेज रॉकस्टार्स ’ को सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म के अलावा इस फिल्म को सर्वश्रेष्ठ लोकेशन साउंड रिर्कार्डिंग , संपादन और बाल कलाकार ( भनिता दास ) के पुरस्कार के लिए चुना गया।

मलयाली फिल्म ‘ भयानकम ’ के लिए जयराज को सर्वश्रेष्ठ निर्देशक के अतिरिक्त सर्वश्रेष्ठ रूपांतरित पटकथा का पुरस्कार दिया जाएगा। इस फिल्म ने सर्वश्रेष्ठ सिनेमैटोग्राफी का पुरस्कार भी अपने नाम किया है।

कौशिक गांगुली की बंगाली फिल्म ‘ नगर कीर्तन ’ में शानदार अभिनय के लिए ऋद्धि सेन ने सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के अलावा कॉस्ट्यूम , मेकअप और विशेष ज्यूरी पुरस्कारों की श्रेणियों में भी पुरस्कृत किया जाएगा।

Leave a Reply