कावेरी मुद्दे पर ‘निष्क्रियता’ के विरोध में व्यक्ति ने खुद को आग लगाई

इरोड ( तमिलनाडु ),  कावेरी मुद्दे पर केंद्र और राज्य सरकार की कथित ‘‘ निष्क्रियता ’’ को लेकर आज यहां 25 वर्षीय व्यक्ति ने खुद को आग लगा ली।

पुलिस और चिकित्सकों ने बताया कि आग लगाने के बाद धर्मलिंगम 90 प्रतिशत तक झुलस गया है और उसे इरोड के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है । उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।

पुलिस ने कहा कि ऐसा बताया जा रहा है कि व्यक्ति पिछले कुछ दिनों से मानसिक रूप से परेशान चल रहा था।

व्यक्ति ने आत्मदाह की कोशिश तब की जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तिरुवेदांती में देश की सबसे बड़ी रक्षा प्रदर्शनी का औपचारिक उद्घाटन करने राज्य के दौरे पर आए हुए हैं।

धर्मलिंगम के घर की दीवार पर लिखे संदेश में कहा गया है , ‘‘ कावेरी का जल तमिलनाडु के लोगों की जीवनरेखा है। अभी तक मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कावेरी प्रबंधन बोर्ड गठित करने पर कोई कदम नहीं उठाया। मैं मोदी के तमिलनाडु दौरे का विरोध करता हूं। ’’

पुलिस ने बताया कि उसने अपने ऊपर केरोसिन छिड़का और आग लगा ली। चिकित्सकों ने बताया कि वह 90 प्रतिशत तक झुलस गया है और उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।

कावेरी प्रबंधन बोर्ड गठित करने की मांग को लेकर एक अप्रैल से राज्य में राजनीतिक दल , तमिल समर्थक संगठन , स्वयंसेवी संगठन और छात्र समूह प्रदर्शन कर रहे हैं।

Leave a Reply