राहुल ने संसद नहीं चलने के खिलाफ कांग्रेस के अनशन का नेतृत्व किया

नयी दिल्ली , कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जातीय हिंसा , सांप्रदायिकता और संसद नहीं चलने के खिलाफ आज कांग्रेस के देशव्यापी दिनभर के अनशन का नेतृत्व किया। संप्रग इन सब के लिए सत्ताधारी भाजपा पर आरोप लगाती है।

कांग्रेस कार्यकर्ता भाजपा सरकार के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद करने और देश में साम्प्रदायिक सौहार्द और शांति को बढ़ावा देने के लिए सभी राज्यों और जिला मुख्यालयों में दिनभर का अनशन कर रहे हैं।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ , शीला दीक्षित , पी सी चाको , दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन और कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला यहां राजघाट पर मौजूद थे जहां अनशन चल रहा है।

कांग्रेस नेताओं ने कहा कि पार्टी नेता एवं 1984 सिख विरोधी दंगे के आरोपियों सज्जन कुमार और जगदीश टाइटलर दोनों को अनशन स्थल के मुख्य मंच पर नहीं बैठने के लिए कहा गया जहां राहुल गांधी आने वाले थे।

इसके बारे में कहे जाने पर कुमार तत्काल वहां से चले गए।

विवाद को लेकर सुरजेवाला ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा में कुछ षड्यंत्रकर्ता हर चीज में अर्थ तलाशते हैं।