डकैती के मामले में सिमी के दो सदस्यों को आजीवन कारावास की सजा

भोपाल, भोपाल की विशेष अदालत ने मणप्पुरम गोल्ड फायनेंस कंपनी की शाखा में लगभग दो करोड़ रूपये के सोने और नगदी की लूट के मामले में सिमी के दो सदस्यों को आज आजीवन कारावास की सजा सुनाई गयी ।

एनआईए के विशेष न्यायाधीश गिरीश दीक्षित ने लूट के एक मामले में सिमी के दो सदस्यों, मुम्बई निवासी अबु फैजल :28: और उज्जैन के रहने वाले मो इकरार शेख :36: को दोषी करार देते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई ।

डकैती के इस मामले में कुल 8 आरोपी थे। इनमें से शरद सिंह :35: और शैलेन्द्र मेहतो :44: फरार हैं जबकि सिमी के चार सदस्यों जाकिर हुसेन :28:, शेख मुजीब अहमद :25: मो. असलम :23: और मो. ऐजाउद्दीन की पुलिस मुठभेड में मौत हो चुकी है।

अभियुक्तों ने 23 अगस्त 2010 को भोपाल की हमीदिया रोड स्थित मणप्पुरम गोल्ड फायनेंस कंपनी की शाखा में डकैती को अंजाम देते हुए 1.46 करोड़ रूपये मूल्य का सोना और 41,000 नगद लूट लिये थे।