फेड कप का अनुभव मेरे लिए मददगार साबित होगा : अंकिता रैना

नयी दिल्ली, फेड कप के एकल मुकाबलों में अपने से अधिक रैंकिंग वाली खिलाड़ियों को हराकर टूर्नामेंट में अपराजेय रहीं अंकिता रैना इस बात को लेकर आश्वस्त हैं कि पेशेवर टेनिस में उन्हें इसका लाभ मिलेगा।

विश्व रैंकिंग में 81वें स्थान पर काबिज यूलिया पुतिनसेवा एवं चीन की लिन झू जैसी खिलाड़ियों के खिलाफ जीत दर्ज करने वाली 25 वर्षीय अंकिता ने बहुत अधिक आत्मविश्वास का परिचय दिया।

चीनी ताइपे की चीए-यू ह्सू को आज 6-4, 5-7, 6-1 से हराने वाली अंकिता ने कहा, ‘‘मैंने कुछ अच्छे मैच खेले, जो मेरे अनुभव में जुड़ गया। अलग-अलग संदर्भों में सभी मैच चुनौतीपूर्ण रहे। एकल मैचों के खेलने के बाद सबसे बड़ी चुनौती युगल और अगले एकल मुकाबलों के लिए तैयार रहने की थी।’’

भारतीय कप्तान अंकिता भांबरी ने इस बात से ‘राहत की सांस ली’ कि मैच शुरुआती दो मुकाबलों में ही खत्म हो गया।

अंकिता ने कहा, ‘‘ मैं काफी तनाव में थी। युगल में चीनी ताइपे की टीम मजबूत थी। अब मैं राहत महसूस कर रही हूं।’’