मस्जिद, गिर्जाघर और गुरूद्वारों का भी कलेक्टर को अध्यक्ष बनाया जाए- नरेन्द्र गिरी जी महाराज

उज्जैन।उज्जैन प्रवास पर आए अखाडा परिषद के अध्यक्ष नरेन्द्र गिरी महाराज से चर्चा में  उन्होंने महाकाल मंदिर की व्यवस्थाओं को लेकर अपनी नाराजगी भी व्यक्त की। साथ ही मंदिर में निगरनी के लिए लगे सीसीटीवी कैमरे  को लेकर कहा की मंदिरों में कैमरे लगे हे तो मस्जिदों पर भी निगरानी की जरूरत है इस पर भी ध्यान देना चाहिए। वहीं उन्होंने अखाड़ों के विरोध पर औवेसी को गलत ढहराया।

उज्जैन में अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेन्द्र गिरी महाराज ने एक अहम मुद्दे पर चर्चा करते हुए कहा कि जैसे मंदिरों में सुरक्षा के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाए जा रहे है वैसे ही अन्य धार्मिक स्थानों पर भी लगाए जाए। मंदिर में क्या हो रहा है उस पर निगरानी की जरूरत है वैसे ही मस्जिदों में क्या हो रहा है उस पर निगरानी की जरूरत है । इशारों-इशारों ने महाराज ने सुरक्षा व्यवस्था पर भी सवाल खडे़ कर दिए। वहीं महाकाल मंदिर की प्रबंधन व्यवस्था पर भी उन्होंने नाराजगी जताई और कहा कि जैसे मंदिर को प्रशासन संभाल रहा है वैसे ही मस्जिद, गिर्जाघर और गुरूद्वारों का भी कलेक्टर को अध्यक्ष बनाया जाए और वहां के भी दान और खर्चों का हिसाब किताब रखा जाए। नरेन्द्र गिरी महाराज से जब ऑल इंडिया मुस्लिम पार्टी के अध्यक्ष अकबर्रूद्दिन औबेसी के अखाड़ों के विरोध के बारे में पुछा गया तो उन्होंने कहा ओवेसी को जानकारी नहीं है हज के लिए यात्रा के लिए सबसीडी दी जाती है और अखाडे में किसी भी साधु-संत को कही आवाजाही पर किसी प्रकार की कोई सबसीडी नहीं दी जाती तो उनका विरोध गलत है।