नकलविहीन व्यवस्था सुनिश्चित की जाए : योगी

लखनउ,  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज कहा कि पूरे प्रदेश में छह फरवरी से शुरू हो रही माध्यमिक शिक्षा परिषद की हाईस्कूल और इण्टरमीडिएट की बोर्ड परीक्षाओं में हर स्तर पर नकलविहीन व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने ‘भाषा’ को बताया कि सरकार छात्रों के भविष्य को लेकर चिन्तित है इसलिए परीक्षाओं का स्तर सुधारने के लिहाज से यह प्रयास किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने यहां शास्त्री भवन में प्रदेश के समस्त जिलाधिकारियों, पुलिस अधीक्षकों व जिला विद्यालय निरीक्षकों को वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से सम्बोधित करते हुए कहा कि दागी केन्द्रों को परीक्षा से बाहर रखा जाए। उन्होंने कहा कि सभी केन्द्रों पर सीसीटीवी कैमरे लगाने की व्यवस्था की जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि नकलविहीन परीक्षा सुनिश्चित कराने की सामूहिक जिम्मेदारी जिलाधिकारियों, पुलिस अधीक्षकों तथा जिला विद्यालय निरीक्षकों की होगी। नकल की शिकायत मिलने पर जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

योगी ने परीक्षा केन्द्रों पर नकलविहीन परीक्षा सुनिश्चित करने के सम्बन्ध में बलिया, देवरिया, गाजीपुर, जौनपुर, आजमगढ़, गोरखपुर, बागपत, मुजफ्फरनगर, बुलन्दशहर, शाहजहांपुर, गोण्डा, मेरठ, इटावा, मैनपुरी तथा बदायूं के जिलाधिकारियों, पुलिस अधीक्षकों तथा जिला विद्यालय निरीक्षकों से सीधे जानकारी प्राप्त की। उन्होंने सभी जिलाधिकारियों को अपने-अपने जनपदों में हर हाल में नकलविहीन परीक्षा सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।