मप्र के स्थानीय निकाय चुनाव में कांग्रेस ने दी सत्तारूढ़ भाजपा को कड़ी टक्कर

भोपाल, मध्यप्रदेश में 19 स्थानीय निकायों के अध्यक्षों के आज आये चुनाव परिणामों में सत्तारूढ़ भाजपा और विपक्षी दल कांग्रेस एक दूसरे को कड़ी टक्कर देते हुए बराबर 9-9 स्थानों पर विजय हासिल की है। वहीं एक स्थानीय निकाय के अध्यक्ष पद पर निर्दलीय उम्मीदवार विजयी हुआ है।

एक चुनाव अधिकारी ने बताया कि आज घोषित किये गये चुनाव परिणामों में भाजपा ने 9 स्थानीय निकायों के अध्यक्ष पदों पर विजय हासिल की हैं। इनमें पीथमपुर नगर पालिका तथा डही, कुक्षी, धामनोद, पानसेमल, राजपुर, पलसूद और ओंकारेश्वर की नगर परिषद अध्यक्ष पद शामिल है, जबकि सेंधवा नगर पालिका के अध्यक्ष पद पर भाजपा उम्मीदवार निर्विरोध विजयी हुआ है।

कांग्रेस ने अपने वरिष्ठ नेता दिग्वजय सिंह के गृह नगर राघौगढ़ नगर पालिका सहित बड़वानी, मनावर और धार नगर पालिका के अध्यक्ष पदों पर जीत का परचम लहराया। इसके अलावा कांग्रेस ने अंजड़, खेतिया, सरदारपुर राजगढ़ और धरमपुरी नगर परिषदों के अध्यक्ष पदों पर भी जीत हासिल की।

जैतहारी नगर परिषद का अध्यक्ष पद एक निर्दलीय उम्मीदवार के खाते में गया है।

इस बीच, प्रदेश के स्थानीय निकाय चुनावों में भाजपा के कमजोर प्रदर्शन पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंदसौर में मीडिया से भाजपा के बागी उम्मीदवारों को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा, ‘‘पार्टी का प्रदर्शन इससे प्रभावित हुआ है। अनेक जगहों पर भाजपा के बागी उम्मीदवार चुनाव मैदान में थे।’’ दूसरी ओर मध्यप्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा कि कांग्रेस सात स्थानीय निकायों के अध्यक्ष पद भाजपा से छीनने में कामयाब रही।

उन्होंने कहा, ‘‘इन चुनाव परिणामों से जाहिर होता है कि प्रदेश के लोगों का भाजपा सरकार से मोहभंग हो गया है। सरकारी मशीनरी और धन का दुरूपयोग करने के बावजूद भी भाजपा इन चुनावों में असफल रही।’’