त्रिपुरा में 18 और मेघालय, नगालैंड में 27 फरवरी को होगा विधानसभा चुनाव

नयी दिल्ली,  पूर्वोत्तर के तीन राज्यों मेघालय, नगालैंड और त्रिपुरा में दो चरणों में विधानसभा चुनाव कराये जायेंगे। इसके तहत त्रिपुरा में 18 फरवरी और मेघालय तथा नगालैंड में 27 फरवरी को मतदान होगा, जबकि तीनों राज्यों में चुनाव परिणाम एक साथ तीन मार्च को घोषित किये जायेंगे। मुख्य निर्वाचन आयुक्त ए के जोती ने तीनों राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिये आज चुनाव कार्यक्रम की घोषणा करते हुये यह जानकारी दी। निर्वाचन आयुक्त ओ पी रावत और सुनील अरोरा के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में जोती ने बताया कि तीनों राज्यों में आज चुनाव कार्यक्रम की घोषणा के साथ ही चुनाव आचार संहिता प्रभावी हो जायेगी। उन्होंने बताया कि पहले चरण में त्रिपुरा विधानसभा चुनाव के लिये निर्वाचन प्रक्रिया 24 जनवरी को चुनाव अधिसूचना जारी होने के साथ ही शुरु होगी। इसी दिन से उम्मीदवार नामांकन पत्र दाखिल कर सकेंगे। राज्य में नामांकन की अंतिम तिथि 31 जनवरी होगी, जबकि नामांकन पत्रों की जांच एक फरवरी और नामांकन वापस लेने की अंतिम तिथि तीन फरवरी नियत की गयी है। राज्य की 60 विधानसभा सीटों के लिये 18 फरवरी को मतदान होगा।

जोती ने बताया कि दूसरे चरण में मेघालय और नगालैंड विधानसभा चुनाव की अधिसूचना 31 जनवरी को जारी होने के साथ ही नामांकन प्रक्रिया शुरु होगी। दोनों राज्यों में नामांकन की अंतिम तिथि सात फरवरी, नामांकन पत्रों की जांच आठ फरवरी और नामांकन वापस लेने की अंतिम तिथि 12 फरवरी तय की गयी है। दोनों राज्यों में विधानसभा की 60-60 सीटों के लिये 27 फरवरी को मतदान होगा।

उन्होंने बताया कि तीनों राज्यों में मतगणना तीन मार्च को होगी, जबकि चुनाव प्रक्रिया पांच मार्च तक पूरी कर ली जायेगी। जोती ने बताया कि इन राज्यों में निष्पक्ष चुनाव सम्पन्न कराने के लिये सभी जरूरी इंतजाम पूरे कर लिये गये हैं। तीनों राज्यों में वीवीपेट युक्त ईवीएम से मतदान कराया जायेगा।

उल्लेखनीय है कि मेघालय विधानसभा का कार्यकाल छह मार्च को, नगालैंड विधानसभा का 13 मार्च और त्रिपुरा विधानसभा का कार्यकाल 14 मार्च को पूरा हो रहा है। त्रिपुरा में वाम मोर्चा, नगालैंड में नगा पीपुल्स फ्रंट की अगुवाई वाले गठबंधन और मेघालय में कांग्रेस की सरकार है।