पर्याप्त रूप से मददगार नहीं रहा है उत्तर कोरिया के मामले पर चीन: ट्रंप

वाशिंगटन, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि चीन ने उत्तर कोरिया के मामले पर अमेरिका के हित में पर्याप्त कदम नहीं उठाए हैं, लेकिन उन्होंने चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के साथ ‘‘अच्छी आपसी समझ’’ की प्रशंसा की।

ट्रंप ने उत्तर कोरिया के परमाणु हथियार कार्यक्रम के मसले को सुलझाने के लिए चीन से और कदम उठाने की अपील की है।

‘द वॉल स्ट्रीट जर्नल’ ने ट्रंप के हवाले से कहा, ‘‘वे पर्याप्त रूप से मददगार नहीं रहे, लेकिन वे काफी मददगार रहे हैं। इस बात को इस तरह कहते हैं कि उन्होंने किसी भी अन्य अमेरिकी राष्ट्रपति की तुलना में मेरे लिए अपेक्षाकृत अधिक किया है, लेकिन उन्होंने अब भी पर्याप्त कदम नहीं उठाए हैं।’’

ट्रंप ने कहा, ‘‘मेरे शी के साथ बहुत अच्छे संबंध हैं। मैं उन्हें पसंद करता हूं। वह मुझे पसंद करते है। हमारे बीच अच्छी आपसी समझ है। उन्होंने किसी भी अन्य अमेरिकी राष्ट्रपति की तुलना में हमारे लिए अपेक्षाकृत बहुत अधिक किया है। इसके बावजूद यह पर्याप्त नहीं है। उन्हें और करना होगा।’’

ट्रंप ने कहा कि चीन से अब तक मिली मदद के कारण वह चीन के खिलाफ उतने सख्त नहीं रहे है, जितना वह रहना चाहते हैं।

उन्होंने एक प्रश्न के उत्तर में कहा, ‘‘हम चीन के खिलाफ काफी सख्त रहे हैं, लेकिन उतना सख्त नहीं रहे जितना मैं रहना चाहता हूं। वे उत्तर कोरिया के मामले पर हमारी काफी मदद कर रहे हैं।’’

ट्रंप ने उत्तर कोरिया को एक बड़ी समस्या बताते हुए कहा, ‘‘यह बड़ी समस्या है और उन्हें मुझे इस समस्या के साथ नहीं छोड़ना चाहिए था। इस समस्या को ओबामा या बुश या क्लिंटन या अन्य को सुलझा देना चाहिए था क्योंकि यह समस्या पुरानी होने के साथ और बढ़ती गई तथा इसे हल करना और मुश्किल होता गया।’’

ट्रंप ने कहा कि उन्होंने किसी भी अन्य अमेरिकी राष्ट्रपति की तुलना में मेरे लिए अपेक्षाकृत अधिक किया है उनके उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन के साथ संभवत: ‘‘बहुत अच्छे संबंध’’ है लेकिन उन्होंने इस बात की पुष्टि नहीं की और न ही इस बात से इनकार किया कि क्या उन्होंने किम जोंग उन से बात की है या नहीं।

उन्होंने इस बात से इनकार किया कि ओलंपिक के लिए कोरियाई प्रायद्वीप में सैन्य अभ्यास में देरी से उत्तर कोरिया को गलत संदेश गया है कि वह एक तरह से उनकी ओर झुक रहे हैं।

Leave a Reply