सरदार पटेल के अनुसार काम किया होता तो ना होती कश्मीर समस्या : योगी

लखनऊ,  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज कहा कि अगर देश की तत्कालीन सरकार ने सरदार पटेल के हिसाब से काम किया होता तो कश्मीर समेत विभिन्न समस्याएं पैदा ही ना होती।

मुख्यमंत्री ने पूर्व उप प्रधानमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल की पुण्यतिथि पर आज यहां उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि पटेल ने अंग्रेजी सरकार की कुत्सित मंशा को नाकाम करते हुए अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति और कुशलता से ना केवल 543 से अधिक रियासतों का भारत में विलय कराया, बल्कि जूनागढ़ और हैदराबाद जैसी भारत में विलय से इन्कार करने वाली रियासतों को लौह पुरुष के अनुरूप आचरण करके भारत में मिलाने का अद्वितीय कार्य किया।

उन्होंने कहा कि अगर देश की तत्कालीन सरकार ने सरदार पटेल के हिसाब से काम किया होता तो कश्मीर समेत वे सभी समस्याएं उत्पन्न ना होतीं, जो आज देश के लिए नासूर बन गई हैं।

योगी ने विश्वास जताया कि लोग सरदार पटेल के दिखाए रास्ते का अनुसरण करते हुए देश को जाति, मत, मजहब में बंटने नहीं देंगे और देश की स्वतंत्रता और अखण्डता की रक्षा करने के लिए तत्पर रहेंगे। मुख्यमंत्री ने सरदार वल्लभ भाई पटेल को भारत माता का महान सपूत बताते हुए कहा कि सरदार पटेल ने भारतीय गणराज्य को एक सूत्र में पिरोने का जो कार्य किया, वह अविस्मरणीय है। उन्होंने भारत की एकता व अखण्डता को एक नई दिशा दी। उनके मूल्यों व आदर्शों पर चलकर ही हम एक श्रेष्ठ भारत की संकल्पना को साकार कर सकते हैं।

उन्होंने कहा कि भारत को श्रेष्ठ भारत बनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार सार्थक प्रयास कर रही है।