फिल्मों में आने के लिए काफी संघर्ष किया : श्रद्धा कपूर

पणजी,  अभिनेत्री श्रद्धा कपूर मशहूर कलाकारों और गायकों के परिवार से ताल्लुक रखती हैं लेकिन उनका कहना है कि फिल्मों में आना उनके लिए आसान नहीं था।

अभिनेता शक्ति कपूर की बेटी और दिग्गज गायिका लता मंगेशकर और आशा भोंसले की रिश्तेदार 30 वर्षीया श्रद्धा ने कहा कि उन्होंने इंडस्ट्री में अपना ब्रेक मिलने के लिए काफी संघर्ष किया।

श्रद्धा ने यहां भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (आईएफएफआई) से इतर कहा, ‘‘मैं फिल्मों में आने के लिए बेताब थी। मेरे अंतर्मन से आवाज आती थी कि अभिनय ही वह पेशा है जिसे मैं अपनाना चाहती हूं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘बहुत लोग यह मानते हैं कि अगर आप किसी अभिनेता के बेटे या बेटी हैं तो आपको ऑडिशन देने की जरुरत नहीं होती लेकिन मामला ऐसा नहीं है। मैंने फिल्मों में आने के लिए बहुत संघर्ष किया। मैं गिन नहीं सकती कि मैंने कितने ऑडिशन दिए। यह आसान नहीं है। मेरी पहली दो फिल्में कुछ खास नहीं कर सकी और यह मुश्किल था। लेकिन ‘आशिकी 2’ से चीजें बदल गईं।’’ अभिनेत्री ने महोत्सव के 48वें संस्करण में एंटरटेनमेंट सोसायटी ऑफ गोवा के बायोस्कोप विलेज पहल का उद्घाटन किया।

‘आशिकी 2’ की कामयाबी के बाद श्रद्धा ने एक के बाद एक हिट फिल्में दी और श्रद्धा ने कहा कि उनका लक्ष्य हर फिल्म से सीखना है।

बॉक्स ऑफिस में उनकी पिछली फिल्म ‘‘हसीना पारकर’’ कुछ खास कमाल नहीं कर पाई थी लेकिन अभिनेत्री ने कहा कि वह इससे निराश नहीं है।

श्रद्धा अपनी अगली फिल्म ‘साहू’ में ‘बाहूबली’ स्टार प्रभास के साथ दिखाई देंगी और वह इस फिल्म को लेकर बहुत उत्साहित हैं।

श्रद्धा साइना नेहवाल की बायोपिक में भी काम कर रही हैं। वह बैडमिंटन खेलना सीख रही हैं और इसके लिए वह साइना के साथ अभ्यास भी कर रही हैं।