अगर क्रिकेटर नहीं खेलना चाहते हैं तो विश्राम ले सकते हैं : कपिल

हैदराबाद, अपने जमाने के दिग्गज आलराउंडर कपिल देव ने कहा कि वर्तमान पीढ़ी के पेशेवर क्रिकेटरों को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के अति व्यस्त कार्यक्रम से सामंजस्य बिठाने की जरूरत है और अगर वे नहीं खेलना चाहते हैं तो विश्राम ले सकते हैं।

कपिल ने कहा, ‘‘वे (क्रिकेटर) अगर नहीं खेलना चाहते हैं तो विश्राम ले सकते हैं। वे पेशेवर हैं। अगर आप (पत्रकार) पेशेवर हो और यदि आप खबर नहीं लिख सकते हो तो कोई दूसरा लिखेगा। अगर आप पेशेवर नहीं हो और आनंद और अपने शौक की खातिर ऐसा कर रहे हो तो फिर अलग बात है। ’’ एक समारोह में भाग लेने के लिये यहां आ रखे कपिल ने पीटीआई से कहा, ‘‘मेरा मानना है कि आज का खेल पेशा बन गया है और एक पेशेवर हमेशा कह सकता है कि मैं नहीं खेलना चाहता या मैं खेल सकता हूं। ’’ उन्होंने हालांकि कहा कि अगर क्रिकेटरों को लगता है कि बहुत अधिक क्रिकेट हो रही है तो इस पर अपनी राय नहीं दे सकते हैं।

कपिल ने कहा, ‘‘अगर क्रिकेटर कह रहे हैं कि बहुत अधिक क्रिकेट हो रही है तो ऐसा होगा। मैं नहीं जानता। मैं उनके साथ नहीं हूं। मैं उनकी तरफ से कोई फैसला नहीं दे सकता। ’’ कपिल ने वर्तमान टीम की जमकर तारीफ करते हुए कहा कि भारतीय टीम पिछले 10-15 वर्षों से अच्छा प्रदर्शन कर रही है।

उन्होंने कहा, ‘‘वह शानदार प्रदर्शन कर रही है। अभी भारतीय टीम बेहतरीन है। पिछले 10-15 वर्षों में भारतीय टीम ने वास्तव में अच्छा प्रदर्शन किया है। ’’