हिजाब पहनने वाली स्कूली छात्राओं से सवाल करेगी निगरानी संस्था

लंदन,  ब्रिटेन की स्कूलों पर नजर रखने वाली संस्था ‘ऑफ्सटेड’ ने आज ऐलान किया कि आस्था से जुड़े हिजाब जैसे परिधान पहनने के फैसले पर उसके निरीक्षक प्राथमिक स्कूलों के बच्चों से सवाल करेंगे ।

यह कदम उन चिंताओं के बाद उठाया गया है कि चार साल की मुस्लिम बच्चियों को भी स्कूल में हिजाब पहनने को मजबूर किया जा रहा है ।

‘दि संडे टाइम्स’ की रिपोर्ट के मुताबिक, ‘ऑफ्सटेड’ के प्रमुख अमांडा स्पीलमैन को आशंका है कि यदि लड़कियों को धार्मिक परिधान पहनना पड़ा और लड़कों को ऐसे कपड़े नहीं पहनने हुए तो यह समानता कानूनों का उल्लंघन होगा । स्पीलमैन ने कहा, ‘‘इन्हीं चिंताओं के निदान के लिए निरीक्षक ऐसे परिधान पहनने वाली लड़कियों से बात करेंगे ताकि पता लगाया जा सके कि वे स्कूल में ऐसा क्यों करती हैं ।’’ उन्होंने अभिभावकों एवं आम लोगों से भी अपील की है कि यदि उन्हें लगता है कि स्कूल लड़कियों एवं लड़कों से एकसमान व्यवहार नहीं कर रहा तो वे भी प्रधानाध्यापकों से शिकायत करें ।