मुख मैथुन से पुरुषों में बढ़ता है सिर और गले के कैंसर का खतरा : शोध

न्य यॉर्क (भाषा),  धूम्रपान करने और कई साथियों के साथ मुख मैथुन करने वाले पुरुषों में सिर और गले में होने वाले एक प्रकार के कैंसर के खतरे को बढ़ा सकता है। एक शोध में यह चेतावनी दी गई है।

अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने पाया कि ह्यूमन पेपिलोमा विषाणु (एचपीवी) के संपर्क में आने से होने वाले कैंसर को एचपीवी संबंधित स्वर धमनी का कैंसर कहा जाता है।

एन्नल्स ऑफ ऑन्कोलॉजी पत्रिका में प्रकाशित इस शोध में देखा गया कि केवल 0.7 प्रतिशत पुरुषों को ही उनके जीवनकाल में स्वर धमनी के इस कैंसर का सामना करना पड़ता है।

शोधकर्ताओं ने बताया कि यह खतरा महिलाओं, धूम्रपान न करने वाले लोगों और उन लोगों में बहुत कम होता है जिन्होंने अपने जीवनकाल में पांच से कम साथियों के साथ मुख मैथुन किया हो।

एचपीवी के 100 से भी ज्यादा प्रकार हैं लेकिन बहुत कम एचपीवी के कारण कैंसर होता है। ज्यादातर सर्वाइकल कैंसर के पीछे एचपीवी 16 और 18 से होने वाला संक्रमण जिम्मेदार होता है और एचपीवी 16 को स्वर धमनी के ज्यादातर कैंसरों के लिए भी जिम्मेदार माना जाता है।