सार्वजनिक क्षेंत्र के बैंकों में सुधारों को प्राथमिकता दे भारत: आईएमएफ

वाशिंगटन,  अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष (आईएमएफ) ने आज कहा कि अपनी आर्थिक वृद्धि दर को तेज करने के लिए भारत को सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में ढांचागत सुधारों के कार्यान्वयन को प्राथमिकता देनी चाहिए तथा श्रम व उत्पाद बाजारों की दक्षता बढ़नी चाहिए।

इसके साथ ही उसने भारत को अपने कृषि क्षेत्र का आधुनिकीकरण करने की सलाह दी है।

आईएमएफ ने अपने एशिया व प्रशांत क्षेत्र की आर्थिक परिदृश्य रपट में उक्त सुझाव दिए हैं।

इसमें कहा गया कि नोटबंदी व जीएसटी के कार्यान्वयन के कारण उपजी अस्थायी बाधाएं दूर होने के बाद देश की वृद्धि दर मध्यावधिक रूप से तेज होने की उम्मीद है।

इसमें कहा गया है कि नवंबर 2016 में नोटबंदी व हाल ही में जीएसटी के कार्यान्वयन से हाल की तिमाहियों में भारत की आर्थिक वृद्धि दर कमजोर हुई है।

इसके साथ ही आईएमएफ ने जीएसटी को महत्वपूर्ण कर सुधार बताया है जिससे घरेलू बाजार के एकीकरण में मदद तथा कारोबारों को अनौपचारिक से औपचारिक क्षेत्र में आने को प्रोत्साहन मिलने की मिलने की उम्मीद है।

Leave a Reply