अमेरिका के हवाई हमलों में इस्लामिक स्टेट के तीन ड्रोन विशेषज्ञ मारे गए

वाशिंगटन, अमेरिका की सेना ने इस्लामिक स्टेट के लिए ड्रोन बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले तीन लोगों को मार गिराया है।

बगदाद में अमेरिका के नेतृत्व वाले सैन्य गठबंधन के प्रवक्ता कर्नल रयान डिल्लन ने कल पेंटागन में संवाददाताओं को बताया कि सितंबर के मध्य माह में सीरिया में अमेरिका के हवाई हमलों में तीन व्यक्ति मारे गए।

डिल्लन ने बताया कि इनमें से दो व्यक्ति ड्रोन बनाने के लिए जिम्मेदार थे। तीसरा व्यक्ति ड्रोन डेवलेपर था।

इस्लामिक स्टेट सीरिया और इराक में निगरानी करने और छोटे हथियारों को दागने के लिए ड्रोन का इस्तेमाल करता है।

इस बीच एएफपी की एक रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिकी सेना ने लीबिया में इस्लामिक स्टेट के खिलाफ कई हवाई हमले किए जिनमें उसके कई लड़ाके मारे गए।

यूएस अफ्रीका कमान ने एक बयान में बताया कि सिरते शहर से करीब 160 किलोमीटर दक्षिण पूर्व में मंगलवार को हवाई हमले किए गए।

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के जनवरी में पदभार संभालने के बाद से पेंटागन ने रविवार को लीबिया में पहले हवाई हमले की घोषणा की। लीबिया में वर्ष 2011 में नाटो समर्थित एक क्रांति में तानाशाह मुअम्मर कज्जाफी के मारे जाने के बाद से अराजकता की स्थिति बनी हुई हैं।