सेंट्रल अफ्रीका में सशस्त्र समूहों के बीच संघर्ष में 25 लोग मारे गये : संयुक्त राष्ट्र

बांगुइ, मध्य अफ्रीकी गणराज्य में सशस्त्र समूहों के बीच हाल ही में हुए गुटीय संघर्षों में कम से कम 25 लोग मारे गए हैं। हिंसा की इस नई लहर से हजारों लोग बेघर भी हो गये हैं।

मानवाधिकार मामलों में समन्वय के लिए संयुक्त राष्ट्र कार्यालय (ओसीएचए) ने अपनी साप्ताहिक रिपोर्ट में कहा है कि प्रारंभिक अनुमान के मुताबिक 7 और 8 सितंबर को सशस्त्र समूह के दो प्रतिद्वन्द्वी गुटों के बीच टकराव में ब्रिआ शहर में ‘‘कम से कम 10 लोग मारे गये और करीब 50 लोग घायल हुये हैं।’’ ओसीएचए ने कहा है कि निर्धन देश के पूर्वी इलाके के याकापी गांव में दो समुदायों के बीच हिंसक टकराव में कम से कम 15 लोग मारे गये और करीब 80 घरों को आग लगा दी गयी।

मानवाधिकार सूत्रों के मुताबिक , उत्तर पश्चिमी शहर बाटानगाफो में बृहस्पतिवार को कम से कम छह लोग मारे गए। यहां अभी भी 28,000 से अधिक लोग बगैर किसी सहायता के रह रहे हैं।

सेंट्रल अफ्रीका में संयुक्त राष्ट्र मानवतावादी समन्वयक, नजत रोचडी ने ‘‘बाटानगाफो में नागरिकों एवं मानवीय संगठनों को लक्षित कर किए हमलों की निंदा की है।’’ हमलों में एक गैर सरकारी संगठन का कार्यकर्ता भी मारा गया था। संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक , सेंट्रल अफ्रीका की करीब आधी आबादी मानवीय सहायता पर निर्भर है।

एमनेस्टी इंटरनेशनल ने शुक्रवार को बताया कि देश के केंद्रीय क्षेत्रों में नागरिकों के साथ ‘‘प्रताड़ना, लूटपाट और मजबूरी में विस्थापन के मामलों में तीव्र वृद्धि हुई है।’’