ब्लू व्हेल गेम: लखनऊ के स्कूलों में स्मार्टफोन पर पाबंदी

लखनऊ, दुनिया में ‘ब्लू व्हेल’ गेम के कारण बच्चों और किशोरों द्वारा आत्महत्या की बढ़ती वारदात के बीच उत्तर प्रदेश के शिक्षा विभाग ने राजधानी लखनऊ के सभी स्कूलों में विद्यार्थियों के स्मार्टफोन लाने पर पाबंदी लगा दी है।

छात्र-छात्राओं के अभिभावकों से कहा गया है कि वे अपने बच्चों पर नजर रखें, ताकि वे ‘ब्लू व्हेल’ जैसे जानलेवा खेल के जाल में ना फंसें।

लखनऊ के जिला विद्यालय निरीक्षक मुकेश कुमार सिंह ने आज ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि स्कूलों में बच्चों के स्मार्टफोन लाने पर पाबंदी लगा दी गयी है। इसके लिये स्कूलों को आकस्मिक निरीक्षण करने के निर्देश दिये गये हैं। साथ ही शिक्षकों तथा अभिभावकों से कहा गया है कि वे बच्चों की गतिविधियों पर नजर रखें।

यह आदेश हाल में लखनऊ के इंदिरा नगर इलाके में 14 साल के एक छात्र द्वारा कथित रूप से फांसी लगाये जाने की घटना के बाद आया है। माना जा रहा है कि ब्लू व्हेल गेम की वजह से उसने खुदकुशी की है।

सिंह ने बताया कि शिक्षकों से कहा गया है कि अगर वे किसी बच्चे को उदास अथवा अवसादग्रस्त देखें तो उस पर तुरन्त ध्यान दें और उसकी काउंसिलिंग करें।

गौरतलब है कि प्रदेश के पुलिस महानिदेशक सुलखान सिंह ने गत 23 अगस्त को सभी जिला पुलिस प्रमुखों को आदेश जारी करते हुए अपने-अपने जिलों में ब्लू व्हेल गेम पर पाबंदी लगाने की ताकीद की थी।

सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने ब्लू व्हेल गेम से सम्बन्धित मामलों का संज्ञान लेते हुए फेसबुक, गूगल तथा इंस्टाग्राम जैसे बड़े सोशल मीडिया माध्यमों के प्रबन्धन को अपनी-अपनी साइट से इस गेम से सम्बन्धित लिंक हटाने को कहा था।