स्टैटिन्स कर सकती हैं टायफाइड, मलेरिया से लड़ने में मदद : अध्ययन

वाशिंगटन, दिल के दौरे या स्ट्रोक का जोखिम कम करने के लिए दी जाने वाली दवा स्टैटिन्स टायफाइड बुखार, क्लैमाइडिया और मलेरिया जैसे संक्रामक रोगों के खिलाफ भी रक्षा प्रदान कर सकती हैं।

अमेरिका की ड्यूक यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने एक अध्ययन में उस जीन प्रकार का पता लगाया है जो कॉलेस्ट्राल के स्तर को प्रभावित करता है और जो टायफाइड बुखार का जोखिम बढ़ा सकता है।

उन्होंने यह भी प्रदर्शित किया कि कॉलेस्ट्रॉल को कम करने वाली आम दवा (एजेटिमाइब या जीटा) घातक संक्रमण के जिम्मेदार सल्मोनेला टाइफी के खिलाफ जेब्राफिश को सुरक्षा प्रदान कर सकती है।

अध्ययन के परिणाम प्रोसीडिंग्स ऑफ नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेज पत्रिका में प्रकाशित हुए हैं। यह संक्रामक बीमारी के प्रति मानव संवेदनशीलता को संचालित करने वाले तंत्र के बारे में अंत: दृष्टि प्रदान करता है।

ड्यूक यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ मेडिसिन के सहायक प्रोफेसर ने कहा, ‘‘हमें इसे क्लिनिक में ले जाने पर विचार करने से पहले चूहे जैसे विभिन्न जीव मॉडलों पर इसको आजमाने की आवश्यकता है।’’