मिलों की निरंतर आपूर्ति के कारण बीते सप्ताह चीनी कीमतों में गिरावट

नयी दिल्ली, त्योहारों की मांग को पूरा करने और कीमतों में सटोरिया तेजी को रोकने के लिए सरकार के द्वारा आयात शुल्क में कमी किये जाने की उम्मीदों के बीच बीते सप्ताह राष्ट्रीय राजधानी, दिल्ली के थोक चीनी बाजार में चीनी कीमतों में कमजोरी का रुख दिखाई दिया। चीनी मिलों की निरंतर आपूर्ति के कारण चीनी कीमतों में गिरावट आई।

बाजार सूत्रों ने कहा कि सरकार द्वारा आयात शुल्क में कमी किये जाने की उम्मीद तथा कीमतों में और गिरावट आने की उम्मीदों की वजह से शीतलपेय और आइसक्रीम निर्माता कंपनियों जैसे थोक उपभोक्ताओं की सुस्त मांग के कारण चीनी मिलों की ओर से बाजार में चीनी की आपूर्ति बढ़ गई और स्टॉक बढ़ने के कारण मुख्यत: चीनी कीमतें प्रभावित हुईं।

इस बीच, सरकार चीनी कीमतों में सटोरिया तेजी को देखते हुए और बाजार में स्टॉक बढ़ाने के लिए करीब तीन से पांच लाख टन चीनी आयात का विचार कर रही है।

चीनी तैयार एम.30 और एस.30 की कीमतें 100 .. 100 रुपये की गिरावट प्रदर्शित करता क्रमश: 4,000 .. 4,100 रुपये और 3,990 .. 4,090 रुपये प्रति क्विन्टल पर बंद हुई।

इसी प्रकार चीनी मिल डिलीवरी एम.30 और एस.30 की कीमतें 60 .. 60 रुपये की गिरावट के साथ सप्ताहांत क्रमश: 3,650 .. 3,840 रुपये और 3,640 .. 3,830 रुपये प्रति क्विंटल पर बंद हुई।

Leave a Reply