आम आदमी बनेगा राष्ट्रपति, कोविंद की जीत सुनिश्चित – रघुवर दास

रांची, झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने आज यहां कहा कि राजग के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद का आज के चुनाव में राष्ट्रपति चुना जाना दो सौ प्रतिशत सुनिश्चित है और उनके चुने जाने से एक आम आदमी देश का राष्ट्रपति बनेगा।

झारखंड विधानसभा में बने मतदान केन्द्र पर आज राजग के विधायकों के साथ राजग के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के पक्ष में अपना मतदान करने के बाद मुख्यमंत्री रघुवर दास ने यह बात कही।

दास ने कहा कि रामनाथ कोविंद के राष्ट्रपति चुने जाने से एक आम आदमी देश का राष्ट्रपति बनेगा। उन्होंने कहा, ‘‘रामनाथ कोविंद का राष्ट्रपति चुना जाना अब दो सौ प्रतिशत तय है और उन्हें उम्मीद से भी अधिक मत प्राप्त होंगे।’’ उन्होंने कहा कि एक आम आदमी का देश के सर्वोच्च पद पर आसीन होना देश और देश के लोकतंत्र के लिए भी गौरव का विषय है।

उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा के शासन में देश में यह साबित हुआ है कि यहां एक सामान्य व्यक्ति भी देश का प्रधानमंत्री एवं राष्ट्रपति बन सकता है।’’ इस बीच विपक्ष के नेता झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने अपना मतदान करने के बाद मीडिया से कहा, ‘‘यह पद नहीं अपितु विचारधारा का चुनाव है।’’ एक सवाल के जवाब में हेमंत सोरेन ने कहा, ‘‘राजग ने जिस प्रकार पूरे देश में माहौल बनाया है उससे देश की एकता कहीं न कहीं खंडित हुई है।’’ उन्होंने कहा कि राजग की सरकार जिस प्रकार राज्य में काम कर रही है उससे अच्छे संकेत नहीं जा रहे हैं।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं कांग्रेस विधायक सुखदेव भगत ने कहा कि झारखंड में कांग्रेस सभी विपक्षी दलों को राष्ट्रपति चुनाव में एकजुट करने में सफल रही है और राज्य में विपक्ष की यह एकजुटता आगे भी बनी रहेगी।

उन्होंने कहा कि जिस प्रकार झारखंड विकास मोर्चा के नेता बाबूलाल मरांडी ने भी यूपीए की उम्मीदवार मीरा कुमार को अपना समर्थन दिया उसके लिए उन्हें विशेष रूप से धन्यवाद देने वह स्वयं अपने विधायक दल के नेता आलमगीर आलम एवं प्रदेश कांग्रेस प्रभारी भक्त चरण दास एवं वरिष्ठ नेता राजेश ठाकुर के साथ झाविमो कार्यालय गये और उन्होंने मरांडी के सहयोग के प्रति कृतज्ञता ज्ञापित की।

इससे पूर्व राजग के पोलिंग एजेंट एवं राज्य के शहरी विकास एवं परिवहन मंत्री सीपी सिंह ने बताया कि विधानसभा परिसर में देश के राष्ट्रपति पद के लिए आज सुबह ठीक दस बजे मतदान का कार्य प्रारंभ हुआ और सबसे पहले मतदान देने वालों में वह स्वयं शामिल थे।

बाद में तय रणनीति के तहत दिन के 11 बजे तक राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के लगभग सभी विधायकों ने अपना मतदान कर दिया। इनमें मुख्यमंत्री रघुवर दास उनके मंत्रिमंडल के सभी सदस्य तथा अन्य विधायक भी शामिल थे।

सत्ताधारी पक्ष के विधायकों के मतदान के बाद विपक्ष भी अपनी तय रणनीति के तहत लगभग एक साथ राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन एवं सदन में कांग्रेस विधायक तथा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुखदेव भगत के नेतृत्व में मतदान करने पहुंचा और दोपहर डेढ़ बजे तक सभी दलों के सभी 81 निर्वाचित विधायकों ने अपना मतदान कर दिया था।

झारखंड में 1971 की जनगणना के अनुसार एक विधायक के मत की कीमत 176 मत के बराबर है और यहां कुल 81 निर्वाचित विधायक हैं। इसके अलावा यहां कुल 20 सांसद हैं जिनके मतों की कीमत पूरे देश के सांसदों के बराबर 708 है।