हमास ने कहा, यरूशलम के धार्मिक स्थल पर हमले के बाद अब उनका अगला निशाना इस्राइली सेना

गाजा सिटी,  गाजा के उग्रवादी हमास शासकों ने हमले के कारण इस्राइल के एक धार्मिक स्थल के बंद होने के बाद फलस्तीनियों से यरूशलम में इस्राइली बलों पर हमले का आह्वान किया है।

हमास के प्रवक्ता फावजी बरहौम ने फलस्तीनी ‘विद्रोह’ से इस्राइली सेना और पश्चिमी तट पर बस्तियों में रहने वालों को निशाना बनाने का आह्वान किया है।

बयान में हमास ने उस धार्मिक स्थल को बंद किए जाने को ‘‘धार्मिक युद्ध’’ करार दिया है जिसे मुस्लिम ‘‘नोबेल सैंक्चुअरी’’ और यहूदी ‘‘टेम्पल माउंट’’ कहते हैं। इस्राइल में शुक्रवार को तीन फलस्तीनी हमलावरों ने गोलीबारी शुरू कर दी, जिसमें दो इस्राइली पुलिस अधिकारियों की मौत हो गई थी। हमलावर इस्राइल के मुस्लिम नागरिक थे।

कल व्हाइट हाउस ने एक बयान में इस हमले की कड़े शब्दों में निंदा की थी।

हमास ने इस हमले का जश्न मनाने के लिए एक रैली भी निकाली थी।

मुस्लिम प्रशासित इस धार्मिक स्थल के प्रति मुस्लिम और यहूदी दोनों गहरी आस्था रखते हैं। इस्राइल का कहना है कि रविवार से पहले वह इसे नहीं खोलेगा।