धनी राज्यों में गरीब लोगों के बीच मधुमेह में इजाफा : अध्ययन

नयी दिल्ली, सामाजिक और आर्थिक रूप में बेहतर राज्यों की तुलना में भारत के समृद्ध राज्यों के शहरी इलाकों में रहने वाले गरीब लोग मधुमेह से अधिक ग्रस्त हैं।

लांसेट डायबिटीज एंड एंडोक्रिनोलॉजी पत्रिका में छपे एक अध्ययन में बताया गया है कि भारत में अधिक विकसित राज्यों के शहरी क्षेत्रों में रहने वाले निचले सामाजिक-आर्थिक समूहों से ताल्लुक रखने वाले लोगों में मधुमेह अति सामान्य बात है। अध्ययन में बताया गया है कि यह तथ्य भारत के लिए एक चिंता की बात है जहां पर अधिकांश लोगों को इलाज का खर्चा अपनी जेब से देना पड़ता है।

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च :आईसीएमआर: और स्वास्थ्य मंत्रालय में स्वास्थ्य शोध विभाग की ओर से आंवटित राशि के जरिए कराए गये अध्ययन में 15 राज्यों के 57,000 लोगों को शामिल किया गया।