रिलायंस डिफेंस ने रक्षा उत्पादन बढ़ाने के लिये दक्षिण कोरियाई कंपनी के साथ समझौता किया

नयी दिल्ली, अनिल अंबानी समूह की कंपनी रिलायंस डिफेंस लि. :आरडीएल: ने भारत के सशस्त्र बलों के लिये सैन्य हार्डवेयर के संयुक्त रूप से विनिर्माण के लिये दक्षिण कोरिया की प्रमुख रक्षा कंपनी के साथ रणनीतिक गठजोड़ किया है।

रिलायंस इंफ्रा प्रवर्तित आरडीएल तथा एलआईजी नेक्स 1 के बीच समझौते के तहत दोनों कंपनियां हवाई रक्षा तथा निगरानी रडार जैसे विभिन्न रक्षा उत्पादों के विकास के लिये अवसर तलाशेंगी।

आरडीएल के एक अधिकारी ने कहा कि दोनों कंपनियों की लक्षित परियोजनाओं का कुल मूल्य अरबों डालर का होगा। उसने इस बारे में विस्तार से कुछ भी कहने से मना कर दिया।

इस साल की शुरूआत में अनिल अंबानी ने कहा था कि अगले कुछ साल में रक्षा क्षेत्र उनके समूह की सबसे बड़ा कारोबार होगा। उन्होंने सशस्त्र बलों के लिये हर साल एक लाख करोड़ रपये मूल्य की खरीद अवसरों को ध्यान में रखते हुए यह बात कही।

एलआई नेक्स 1 ‘एंटी-शिप मिसाइल, एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल’ तथा ‘गाइडेड राकेट’ जैसे भारी हथियारों के विनिर्माण की श्रेणी में अगुवा है।

दोनों कंपनियों ने शुरू में देश में विनिर्माण के लिये हवाई रक्षा एवं निगरानी रडार की पहचान की हैं।

Leave a Reply