आजम ने पूछा, क्या योगी आदित्यनाथ नमाज पढ़ेंगे?

रामपुर, समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान ने आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से सवाल किया कि क्या वह ‘‘नमाज पढ़ना चाहेंगे’’ क्योंकि उनका :आदित्यनाथ का: कहना है कि नमाज सूर्य नमस्कार के समान है।

आदित्यनाथ की इस टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए कि मुस्लिमों द्वारा पढी जाने वाली नमाज सूर्य नमस्कार के विभिन्न आसनों की तरह लगती है, खान ने कहा, ‘‘अगर उन्होंने ऐसी टिप्पणियां की होतीं तो उन्हें हथकड़ियां पहना दी गई होतीं।’’ उन्होंने मुख्यमंत्री से सवाल किया, ‘‘चूंकि आपको सूर्य नमस्कार और नमाज में समानताएं लगती हैं, क्या आप नमाज पढ़ना चाहेंगे?’’ सपा महासचिव ने कहा कि वह यह नहीं समझ पा रहे हैं कि मुस्लिमों द्वारा पढी जाने वाली नमाज किस तरह से सूर्य नमस्कार के समान है। उन्होंने इस टिप्पणी के पीछे आदित्यनाथ की मंशा पर सवाल खड़े किये।

खान ने कहा कि कोई भी ‘‘आदित्यनाथ को नमाज पढ़ने से नहीं रोकेगा।’’ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने बुधवार को कहा था, ‘‘सूर्य नमस्कार के सभी आसन, प्राणायाम क्रियाकलाप हमारे मुस्लिम भाइयों द्वारा पढ़ी जाने वाली नमाज के तरीके के समान है। लेकिन किसी ने उन्हें एकसाथ लाने का प्रयास नहीं किया क्योंकि कुछ लोगों की रूचि केवल भोग में है योग में नहीं।’’ बूचड़खानों पर कार्रवाई पर खान ने कहा, ‘‘मुस्लिमों को यह सुनिश्चित करने के लिए सब्जियां खाने को मजबूर किया जा रहा है कि अन्य की धार्मिक भावनाएं आहत नहीं हों। शेर घास नहीं खाता लेकिन अगर वह जिंदा रहना चाहता तो उसे ऐसा करना पड़ेगा।’’