गोवा में पर्रिकर ने विश्वासमत जीता, मतदान में शामिल नहीं हुआ कांग्रेस का एक विधायक

पणजी,  मनोहर पर्रिकर सरकार ने आज 40 सदस्यीय गोवा विधानसभा में 22 विधायकों के समर्थन के साथ सदन में बहुमत साबित कर दिया।

विपक्षी कांग्रेस पर्रिकर सरकार के खिलाफ महज 16 मत ही जुटा पाई, इस दौरान पार्टी का एक विधायक इस बेहद अह्म शक्ति परीक्षण के दौरान अनुपस्थित रहा।

उच्चतम न्यायालय के आदेश के बाद शक्ति परीक्षण करवाने के लिए विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया गया था।

पर्रिकर ने इस हफ्ते की शुरूआत में रक्षा मंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया था और गत 14 मार्च को उन्हें तथा अन्य नौ विधायकों को राज्यपाल मृदुला सिन्हा ने शपथ ग्रहण करवाई थी।

विश्वास मत में भाजपा के 12 विधायकों, गोवा फारवर्ड पार्टी के तीन विधायकों, महाराष्ट्र गोमांतक पार्टी के तीन विधायकों, तीन निर्दलीयों के अलावा राकांपा के एक विधायक ने भी 61 वर्षीय नेता के पक्ष में मत दिया।

विपक्ष में कांग्रेस के 16 विधायक मौजूद थे जबकि नवनिर्वाचित सदस्य विश्वजीत राणे मतदान के वक्त गैरमौजूद रहे।

अस्थायी अध्यक्ष और भाजपा सदस्य सिद्धार्थ कुनकोलिनकर ने विश्वास मत करवाने का आदेश दिया था जिसे पर्रिकर सरकार ने स्पष्ट विभाजन के साथ पास कर लिया।

Leave a Reply