उच्च न्यायालय ने जेटली के वित्तीय रिकॉर्ड मांगने वाली केजरीवाल की याचिका खारिज की

नयी दिल्ली,  दिल्ली उच्च न्यायालय ने वित्त मंत्री अरूण जेटली के बैंक खातों, टैक्स रिटर्न और अन्य वित्तीय रिकॉडरें से जुड़ी जानकारी उपलब्श कराने के लिये मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की याचिका आज खारिज कर दी । जेटली ने केजरीवाल के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर कर रखा है।

उच्च न्यायालय ने कहा कि जेटली के परिवार के सदस्यों के बैंक खातों के लेन-देन और उनकी और परिजन की 10 प्रतिशत की हिस्सेदारी वाली कंपनियों की जानकारी मांगने वाली केजरीवाल की याचिका ‘‘बेवजह की पूछताछ’’ है और इसमें कोई दम नहीं है।

न्यायमूर्ति राजीव सहाय एंडलॉ ने जेटली की गवाही के कुछ हिस्सों को हटाने का केजरीवाल का आग्रह भी ठुकरा दिया। केजरीवाल ने दावा किया था कि ये भाजपा नेता की बहस और जवाब में शामिल नहीं थे।

वकील अनुपम श्रीवास्तव ने केजरीवाल की ओर से कहा कि वह आदेश के खिलाफ याचिका दायर करना चाहते हैं।

जेटली ने वर्ष 2015 में मानहानि का मुकदमा दायर करते हुए केजरीवाल, राघव चड्ढा, कुमार विश्वास, आशुतोष, संजय सिंह और दीपक वाजपेयी से 10 करोड़ रूपए के मुआवजे की मांग की थी।