ओकीफी और लियोन ने भारत को ध्वस्त किया, आस्ट्रेलिया 333 रन से जीता

करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले स्टीव ओकीफी और नाथन लियोन की फिरकी के जादू से आस्ट्रेलिया ने दूसरी पारी में भी भारत को सिर्फ 107 रन पर समेटकर तीसरे ही दिन पहला क्रिकेट टेस्ट 333 रन से जीतकर चार मैचों की श्रृंखला में 1-0 की बढ़त बना ली।

आस्ट्रेलिया ने इसके साथ ही भारत के लगातार 19 मैचों के अजेय अभियान को भी थाम दिया और साथ ही 20 टेस्ट बाद मेजबान टीम को उसके मैदान पर हार का स्वाद चखाया। पहली पारी में 35 रन देकर छह विकेट चटकाने वाले बायें हाथ के स्पिनर ओकीफी ने दूसरी पारी में भी 35 रन देकर छह विकेट चटकाए जबकि आफ स्पिनर लियोन ने 53 रन देकर चार विकेट हासिल किए जिससे भारतीय टीम 441 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए सिर्फ 33 . 5 ओवर में 107 रन पर पवेलियन लौट गई। मेजबान टीम की ओर से चेतेश्वर पुजारा :31: के अलावा कोई बल्लेबाज 20 रन तक भी नहीं पहुंच पाया।

ओकीफी ने मैच में 70 रन देकर 12 विकेट चटकाए जो किसी आस्ट्रेलियाई गेंदबाज का भारतीय सरजमीं पर सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन भी है। इससे पहले एलेन डेविडसन ने दिसंबर 1959 में कानपुर में भारत के खिलाफ मैच में 124 रन देकर 12 विकेट हासिल किए थे। इससे पहले आस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीवन स्मिथ ने अपना 18वां टेस्ट शतक जड़ते हुए 202 गेंद में 11 चौकों की मदद से 109 रन बनाए जिससे मेहमान टीम ने दूसरी पारी में 285 रन का स्कोर खड़ा किया। तेज टर्न और उछाल के बीच स्मिथ की यह पारी भारतीय सरजमीं पर किसी विदेशी बल्लेबाज की सर्वश्रेष्ठ पारियों में से एक है। यह भारत के खिलाफ पिछले पांच टेस्ट में उनका लगातार पांचवां शतक है।