सैन्य बलों का राजनीतिकरण ना करे विपक्ष : जावड़ेकर

इम्फाल,  सैन्य प्रमुख बिपिन रावत की टिप्पणियों पर उपजे सियासी विवाद के बीच केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने आज विपक्ष से कहा कि वह लोकतंत्र का पालन करे और सैन्य बलों का राजनीतिकरण ना करे।

उन्होंने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘विपक्ष को हर मुद्दे का राजनीतिकरण नहीं करना चाहिए। उन्होंने लक्षित हमलों पर संदेह जाहिर किया जो :भारत के: इतिहास में इससे पहले कभी नहीं हुआ। अब वह एक मुद्दे का राजनीतिकरण कर रहे हैं, उस पर प्रतिक्रिया दे रहे हैं जो उन्हें नहीं करना चाहिए। इसलिए मैं उनसे अनुरोध करता हूं कि वह लोकतंत्र की राह पर चलें और सेना का राजनीतिकरण ना करें।’’ मानव संसाधन मंत्री की टिप्पणियों की पृष्ठभूमि सैन्य प्रमुख का वह वक्तव्य है जिसमें उन्होंने कश्मीर में पत्थरबाजों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का वकालत की थी।

रावत ने यह कड़ा संदेश इसलिए दिया था क्योंकि उत्तरी कश्मीर के बांदीपुरा के पारे मोहल्ले में तीन जवानों पर भारी पत्थरबाजी की गई थी। ये जवान वहां छिपे आतंकवादियों के खिलाफ अभियान छेड़ने की तैयारी कर रहे थे।

 

Leave a Reply