अमेरिकी सीनेटर ने एच1बी वीजा प्रणाली में सुधार की मांग की

वाशिंगटन,  एक शीर्ष अमेरिकी सीनेटर ने अमेरिका में आईटी पेशेवरों की भारी कमी को पूरा करने के लिए अन्य देशों से उच्च योग्यता वाले कर्मियों को लाने के लिए एच1बी वीजा प्रणाली में सुधार की मांग की है।

रिपब्लिकन सीनेटर ओरिन हैच ने कहा, ‘‘इन रिक्तियों को भरने के लिए अन्य देशों से उच्च योग्यता प्राप्त कर्मियों को लाने के लिए हमारे पास एच-1बी वीजा प्रणाली है लेकिन यह प्रणाली अब पुरानी हो चुकी है और बाजार की मांग के अनुरूप नहीं है।’’ उन्होंने कहा कि अनुसंधानकर्ताओं का अनुमान है कि अमेरिका वर्ष 2018 तक विज्ञान, प्रौद्योगिकी, इंजीनियरिंग एवं गणित विषयों में डिग्री हासिल करने वाले 2,20,000 से अधिक कर्मियों की कमी का सामना करेगा।

हैच ने कहा कि इसका अर्थ यह हुआ कि उत्पादकता, नवोन्मेष एवं आर्थिक विकास में कमी आएगी।

सीनेट रिपब्लिकन हाई टेक टास्क फोर्स के अध्यक्ष हैच ने कहा, ‘‘हमें इस प्रक्रिया में सुधार करने की आवश्कयता है ताकि हम उन उच्च दक्षता प्राप्त व्यक्तियों की बेहतर तरीके से पहचान कर सकें जो अमेरिका आना चाहते हैं- जो यहां रहना चाहते हैं और हमारी अर्थव्यवस्था में योगदान देना चाहते हैं।’’ उन्होंने साथ ही यह भी कहा कि यह सुनिश्चित किए जाने की आवश्कयता है कि घरेलू कर्मियों के वेतन कम करने या अमेरिकी कर्मियों को नौकरी से हटाने के लिए इस प्रणाली का गलत प्रयोग नहीं किया जाए।

Leave a Reply