ट्रंप ने कार्यवाहक अटॉर्नी जनरल को बख्रास्त किया

वाशिंगटन,  सात मुस्लिम बहुल देशों के नागरिकों समेत सभी शरणार्थियों के अमेरिका में प्रवेश पर रोक लगाने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के शासकीय आदेश का बचाव करने से इनकार करने वाली कार्यवाहक अटॉर्नी जनरल सैली येट्स को न्याय विभाग के साथ विश्वासघात करने पर आज बख्रास्त कर दिया।

व्हाइट हाउस ने एक बयान में कहा, ‘‘येट्स ने न्याय विभाग के साथ विश्वासघात किया है।’’ ट्रंप ने येट्स को उनकी बख्रास्तगी सूचना फोन पर नहीं दी बल्कि उन्हें पत्र भेजकर यह जानकारी दी गयी।

येट्स ने न्याय विभाग के अधिवक्ताओं से कहा था कि वह आव्रजन और शरणार्थियों से संबंधित ट्रंप के शासकीय आदेश के बचाव में दलीलें पेश ना करें, जिसके बाद यह कदम उठाया गया।

येट्स ने न्याय विभाग के वकीलों को लिखे एक पत्र में कहा, ‘‘मौजूदा समय में, मैं इस बात से सहमत नहीं हूं कि इन जिम्मेदारियों के साथ इस शासकीय आदेश का बचाव करना सुसंगत है और ना ही मैं इस शासकीय आदेश को न्यायसंगत मानती हूं।’’ व्हाइट हाउस ने कहा, ‘‘सुश्री येट्स को ओबामा प्रशासन के दौरान नियुक्त किया गया था और वह सीमा संबंधी मामलों और अवैध आव्रजन से जुड़े मामलों में काफी कमजोर हैं। अब हमें देश की रक्षा को लेकर गंभीर होने की जरूरत है। सात खतरनाक देशों से आने वाले लोगों की सघन जांच का कदम सख्त नहीं है। हमारे देश की सुरक्षा के लिए यह उचित और आवश्यक कदम है।’’ व्हाइट हाउस ने सांसद जेफ सेशंस के नामांकन की अमेरिकी सीनेट से पुष्टि होने तक डान बोएंटे को नया कार्यवाहक अटॉर्नी जनरल नियुक्त किया है।